‘एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन के ओवरब्रिज पर भगदड़ जनता का नरसंहार है.’

— संजय राउत, शिवसेना सांसद

सांसद संजय राउत का यह बयान मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन के ओवरब्रिज पर भगदड़ में 22 लोगों के मारे जाने के लिए सरकार को जिम्मेदार बताते हुए आया. उन्होंने आगे कहा कि रेल मंत्री पीयूष गोयल और रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करना चाहिए और उनके खिलाफ सदोष मानव वध का मुकदमा चलाना चाहिए. बुलेट ट्रेन के लिए भाजपा पर निशाना साधते हुए संजय राउत ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा रेलवे की सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए. वहीं शिवसेना के एक अन्य सांसद राहुल शेवाले ने कहा कि उन्होंने इस ओवरब्रिज की चौड़ाई बढ़ाने के लिए पिछले साल अप्रैल में तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु को पत्र लिखा था, लेकिन उन्होंने पैसे की कमी बताकर इस मांग को खारिज कर दिया था.

‘प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) को आगे आना चाहिए और लोगों का सामना करना चाहिए.’

— शत्रुघ्न सिन्हा, भाजपा सांसद

भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से असली प्रेस कॉन्फ्रेंस में अर्थव्यवस्था पर लोगों के सवालों का जवाब देने की अपील करते हुए कही. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश को, खास तौर पर गुजरात में विधानसभा चुनाव को देखते हुए यह बताना होगा कि वे मध्यम वर्ग, छोटे व्यापारियों और छोटे व्यवसायों का ख्याल रखते हैं.’ पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा द्वारा मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना पर बयानबाजी जारी है. इस पर शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि इसे सरकार बनाम यशवंत सिन्हा या यशवंत सिन्हा बनाम अरुण जेटली नहीं बनाना चाहिए, जिसकी कोशिश की जा रही है, नहीं तो ‘बात निकलेगी तो दूर तलक जाएगी.’


‘स्वामी ब्रह्म योगानंद ने भविष्यवाणी की है कि 2019 से पहले अयोध्या में राम मंदिर बन जाएगा.’

— सिद्धार्थनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री

उत्तर प्रदेश के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह का यह बयान अयोध्या में राम मंदिर को लेकर लोगों के सोच में बदलाव का दावा करते हुए आया. उन्होंने कहा कि स्वामी ब्रह्म योगानंद ने इससे पहले नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने की भविष्यवाणी की थी जो सही साबित हुई. सिद्धार्थनाथ सिंह ने आगे कहा, ‘अब देश की स्थिति बदल रही है जो लोग पहले विरोध कर रहे थे वे अब भव्य राम मंदिर चाहते हैं.’ शुक्रवार को इसी सवाल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी लोग मंदिर चाहते हैं, लेकिन यह मामला अभी अदालत में है, इसलिए उसके फैसले का इंतजार करना चाहिए.


‘प्रधानमंत्री जी लोगों को तसल्ली देने के लिए रेलमंत्री नहीं, रेलवे का चेहरा बदलिए.’  

— सुष्मिता देव, कांग्रेस सांसद और प्रवक्ता

कांग्रेस नेता सुष्मिता देव ने यह बात रेल हादसों में बढ़ोतरी पर चिंता जताते हुए कही. उन्होंने कहा, ‘यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपना कर्तव्य निभाने में बड़ी चूक है.’ मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन के ओवरब्रिट पर हादसे पर सुष्मिता देव ने कहा कि यात्रियों की बार-बार शिकायत के बावजूद रेलवे अधिकारियों ने उसे नजरअंदाज किया और कोई कदम नहीं उठाया. उन्होंने यह भी कहा कि रेलवे के सुरक्षा विभाग में 1.42 लाख पद खाली हैं, जिन पर रेल हादसों में मारे गए लोगों के परिजनों को नियुक्त करना चाहिए. कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने मुंबई में भगदड़ की न्यायिक जांच कराने और पीड़ितों का मुआवजा बढ़ाने की मांग की.


‘अफगानिस्तान अच्छे और बुरे आतंकवाद में फर्क नहीं करता है.’

— अब्दुल्ला अब्दुल्ला, अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी

अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला का यह बयान अपरोक्ष रूप से पाकिस्तान पर अच्छे और बुरे आतंकवाद में अंतर करने का आरोप लगाते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘कुछ देश सोचते हैं कि इस्लामिक स्टेट ही असली खतरा है, लेकिन आतंकवाद तो आतंकवाद होता है.’ अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने आगे कहा कि आतंकवाद अफगानिस्तान के सामने प्रमुख चुनौती है और पूरे क्षेत्र के लिए खतरा है. उनका यह भी कहना था कि अफगानिस्तान सभी देशों के साथ मित्रतापूर्ण संबंध चाहता है. बीते वर्षों में भारत और अफगानिस्तान का संबंध मजबूत होने का दावा करते हुए अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने कहा कि इसने अफगानिस्तान में हजारों जिंदगियों को प्रभावित किया है.