राहुल गांधी कांग्रेस की कमान संभालेंगे या नहीं? संभालेंगे तो कब संभालेंगे? इसे लेकर लंबे समय से अटकलें चल रही हैं. बल्कि पिछले साल जुलाई में आई ख़बरों में तो यहां तक आ गया था कि अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के एक विशेष अधिवेशन में कांग्रेस उपाध्यक्ष की ताजपोशी का ऐलान होने वाला है. यह अधिवेशन अगस्त के दूसरे पखवाड़े या नवंबर के मध्य में दिल्ली में हो सकता है. ऐसी ही ख़बर इस साल अगस्त में भी आई थी और अब फिर आई है. इस बार कहा जा रहा है कि दिवाली बाद राहुल को कांग्रेस की कमान सौंपी जा सकती है.

इस दफा राहुल के नज़दीकी कांग्रेसी नेता सचिन पायलट और मिलिंद देवड़ा ने यह संकेत दिए हैं. द हिंदू से बातचीत में देवड़ा ने कहा, ‘पार्टी में सभी चाहते हैं कि इस मामले में चल रही अटकलबाज़ियां खत्म होनी चाहिए. उन्हें (राहुल को) पार्टी की कमान सौंपी जाना तय है. बस सही समय का इंतज़ार किया जा रहा है.’ हालांकि देवड़ा ने इसे लेकर कोई समय सीमा नहीं बताई. अलबत्ता इतना ज़रूर कहा कि राहुल की नई टीम में अनुभव और युवा ऊर्जा सही मेल होगा.

उधर पायलट ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में संभावना ज़ताई कि दिवाली के बाद बदलाव हो सकता है. उन्होंने कहा, ‘पार्टी में संगठन चुनाव चल रहे हैं और नए राष्ट्रीय अध्यक्ष (राहुल) दिवाली बाद पद संभाल सकते हैं.’ वैसे यहां फिर याद दिला दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी की करारी हार के बाद से ही राहुल काे पार्टी की कमान सौंपने का मामला टल रहा है. इसलिए बार भी उन्हें पार्टी अध्यक्ष बनाने की ख़बर कितनी सही होगी कहना मुश्किल है.