अरुणाचल प्रदेश में तवांग के पास शुक्रवार की सुबह भारतीय वायु सेना का एमआई-17 वी5 हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई जबकि एक गंभीर रूप से घायल हो गया. स्थानीय अस्पताल में घायल जवान का इलाज चल रहा है.

वायुसेना के सूत्राें के हवाले से समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया, ‘घटना सुबह क़रीब छह बजे हुई. हेलिकॉप्टर ने रखरखाव मिशन के तहत उड़ान भरी थी. लेकिन थोड़ी ही देर में भारत-चीन सीमा के नज़दीक यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया. घटना की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दे दिया गया है.’ द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक एमआई-17 वी5 को दुनिया का सबसे अाधुनिक परिवहन हेलिकॉप्टर माना जाता है. रूस के साथ हुए सौदे के तहत 2016 में भारत को ऐसे तीन हेलिकॉप्टर मिले थे. रूस के साथ यह सौदा 2008 में हुआ था. इसके तहत इस तरह के 80 और हेलिकॉप्टर भारत को मिलने हैं.

ग़ौरतलब है कि बीती चार जुलाई को अरुणाचल में भारत-चीन सीमा पर ही एक आधुनिक हल्का हेलिकॉप्टर (एएलएच) भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. उस घटना में तीन दिन बाद विंग कमांडर मनदीप सिंह ढिल्लन, फ्लाइट लेफ्टिनेंट प्रमोद कुमार सिंह और सर्जेंट राजेंद्र यशवंत गुर्जर के क्षत-विक्षत शव बरामद हुए थे.