कांग्रेस हिमाचल प्रदेश में मौजूदा मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में अगला विधानसभा चुनाव लड़ेगी. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक शनिवार को हिमाचल प्रदेश के मंडी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने स्पष्ट कर दिया कि वीरभद्र सिंह ही मुख्यमंत्री के लिए पार्टी का चेहरा होंगे. उन्होंने कहा, ‘छह बार से मुख्यमंत्री बन रहे वीरभद्र सिंह ने राज्य में जबरदस्त विकास किया है. वे सातवीं बार भी मुख्यमंत्री बनेंगे. पार्टी उनका पूरा समर्थन करेगी.’

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की यह घोषणा मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू के बीच लंबे समय से जारी टकराव की पृष्ठभूमि में आई है. अगस्त में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू को हटाने की मांग के साथ विधानसभा चुनाव न लड़ने की घोषणा कर दी थी. इसके बाद कांग्रेस विधायक दल के कई सदस्यों ने पार्टी नेतृत्व से इस मामले में दखल देने की अपील की थी. ऐसे में राहुल गांधी की इस घोषणा को वीरभद्र सिंह के खेमे का उत्साह बढ़ाने वाला माना जा रहा है.

मंडी से पार्टी के प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा की केंद्र और राज्य सरकारों पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि हिमाचल के लोगों को वीरभद्र सरकार के पांच साल की तुलना गुजरात में भाजपा की सरकार से करनी चाहिए. राहुल गांधी ने बढ़ती बेरोजगारी का भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा, ‘चीन रोजाना 5,000 युवाओं को रोजगार देता है, लेकिन मोदी सरकार केवल 450 लोगों को रोजगार दे रही है.’ हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने की संभावना है. इससे पहले मंडी के नजदीक बिलासपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी एक जनसभा को संबोधित कर चुके हैं.