मोदी जी से अर्थव्यवस्था और जीडीपी पर सवाल-जवाब तो पक्षपात है. क्या लोगों ने कभी डॉ मनमोहन सिंह से यह पूछा था कि चाय कैसे बनाई जाती है?


एक जगह भारी बहस चल रही थी. एक पक्ष ने कहा – ‘कंगना रनोट सबसे बड़ी झूठी है.’ दूसरे ने कहा – ‘रितिक रोशन सबसे बड़ा झूठा है.’ इतने में कहीं से आवाज आई – ‘मितरों, भारत 2022 में विश्वगुरू बनेगा...’ और यह सुनते ही बहस खत्म हो गई.


रिपोर्टर - देश की आर्थिक हालत पर क्या कहेंगे?
अरुण जेटली – सबकुछ ठीक है.
रिजर्व बैंक के गवर्नर – सब कुछ ठीक कहना सही नहीं है.
प्रधानमंत्री – लेकिन गड़बड़ियां तो पहले भी होती थीं!


सप्ताह का कार्टून :

लंदन में विजय माल्या को इतनी तेजी से जमानत मिली कि संबित पात्रा कन्फ्यूज हो गए कि गिरफ्तारी का श्रेय मोदी को दें या जमानत मिलने का दोष नेहरू पर मढ़ें.


गोरखपुर उत्तर प्रदेश के पर्यटक स्थलों में ताज महल से भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह इतनी ऊंचाई पर है जहां ऑक्सीजन की कमी पड़ जाती है.


अरुण शौरी के मुताबिक - भाजपा के ढाई लोगों की सरकार से बेहतर तो रामगोपाल वर्मा की सरकार 3 थी.