केंद्र सरकार की अपील पर गुजरात पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैल्यू एडेड टैक्स (वैट) में कटौती करने वाला पहला राज्य बन गया है. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार मंगलवार को यह घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कहा, ‘हमने पेट्रोल और डीजल से चार फीसदी वैट घटाया है. इससे प्रति लीटर पेट्रोल 2.93 रुपये और डीजल 2.72 रुपये सस्ता हो जाएगा.’ मंगलवार को आधी रात से गुजरात में पेट्रोल की कीमत 66.53 रुपये और डीजल की कीमत 60.77 रुपये प्रति लीटर हो जाएगी.

गुजरात सरकार को इससे सालाना 2,316 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान पड़ेगा. इसकी जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कहा, ‘हमने यह कदम लोगों के हितों को ध्यान में रखकर उठाया है.’ हालांकि, उनके इस फैसले को नजदीक आ चुके विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है.

पेट्रोल और डीजल की कीमत में बढ़ोतरी से आलोचना झेल रही केंद्र सरकार ने पिछले हफ्ते राज्यों से इस पर लगने वाले वैट में पांच फीसदी कटौती करने की अपील की थी. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था, ‘उपभोक्ता हितों को ध्यान में रखकर राज्यों को भी केंद्र की तरह जिम्मेदारी निभानी चाहिए.’ इससे पहले केंद्र ने पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में दो रुपये की कटौती की थी. इसकी जानकारी देते हुए वित्त मंत्रालय ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में बढ़ोतरी से उपभोक्ताओं पर पड़ने वाले अतिरिक्त बोझ को घटाने के लिए यह कदम उठाया गया है.