आयरलैंड के जॉन कोलिजन पहली पीढ़ी के दुनिया के सबसे कम उम्र के अरबपति बन गए हैं. दुनिया के अरबपतियों की सूची तैयार करने वाली पत्रिका फोर्ब्स के अनुसार उन्होंने महज 26 साल में यह उपलब्धि हासिल की है. इससे पहले सोशल नेटवर्किंग साइट स्नैपचैट के सीईओ ईवान स्पाइजेल के नाम यह रिकॉर्ड था, जो 26 साल दो महीने की उम्र में इस सूची में शामिल हुए थे.

जॉन कोलिजन इंटरनेट के जरिए पैसों के लेन-देन की सेवा देने वाली कंपनी ‘स्ट्राइप’ के सह-संस्थापक और अध्यक्ष हैं. उन्होंने सितंबर 2011 में अपने भाई पैट्रिक कोलिजन के साथ मिलकर यह कंपनी शुरू की थी. फोर्ब्स के अनुसार स्ट्राइप का कुल मूल्य 9.2 अरब डॉलर आंका गया है. स्ट्राइप फिलहाल 25 देशों में अपनी सेवाएं दे रही है. इस कंपनी में अभी करीब सात सौ लोग काम करते हैं.

जॉन कोलिजन अमेरिका की प्रतिष्ठित हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी में फीजिक्स के स्नातक के छात्र रहे हैं. हालांकि कंपनी शुरू करने के लिए उन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में छोड़ दी थी. आज इस कंपनी के निवेशकों में अमेरिकन एक्सप्रेस, वीजा, काउफील्ड ऐंड बायर्स और सिकोया कैपिटल जैसे दिग्गज कंपनियां शामिल हैं.

फोर्ब्स की अरबपतियों की ताजा सूची ऐसी ही पिछली तमाम सूचियों के मुकाबले सबसे बड़ी है. इसमें अब अरबपतियोंं की संख्या 2,043 हो गई है, जिनकी कुल संपत्ति 7.7 लाख करोड़ डॉलर है. यह राशि भारत जैसी बड़ी अर्थव्यवस्था की कुल जीडीपी के तिगुने से भी ज्यादा है.