मोदी सरकार ने केंद्रीय विश्वविद्यालयों के शिक्षकों को दिवाली का तोहफा देते हुए उनके लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू कर दी हैं. केंद्रीय मंत्रिमंडल की बुधवार को हुई बैठक में यह फैसला हुआ. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने बैठक के बाद बताया कि इस फैसले से 43 केंद्रीय विश्वविद्यालयों सहित आईआईटी, आईआईएम जैसे 213 संस्थानों के 58 हजार प्रोफेसर लाभा​न्वित होंगे. केंद्र सरकार का यह निर्णय एक जनवरी 2016 से लागू होगा. इस फैसले से वेतन में 22 से 28 फीसदी तक का इजाफा हुआ है.

प्रकाश जावडेकर ने कहा कि सरकार के इस फैसले से हालांकि कुल 7.58 लाख प्रोफेसर लाभान्वित होंगे. उनके अनुसार इस फैसले से राज्य के 329 विश्वविद्यालय और 12,912 कॉलेजों के सात लाख अन्य प्रोफेसर भी लाभान्वित होंगे. उन्होंने यह भी बताया कि इस फैसले से इन शिक्षण संस्थानों में बेहतरीन प्रतिभा को आकर्षित करने और उन्हें बनाए रखने में सहूलियत होगी. सरकार के अनुसार केंद्र की शत-प्रतिशत मदद से चलने वाले 213 संस्थानों में आईआईटी, ट्रिपल आईटी, आईआईएम जैसे 119 संस्थान भी शामिल हैं.