जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों को फिर बड़ी सफलता मिली है. पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुई गोलीबारी में लश्कर-ए-तैयबा का एक और कमांडर मारा गया. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक़ शनिवार सुबह हुए इस ऑपरेशन में शोपियां ज़िले में लश्कर का कमांडर वसीम शाह अपने एक और साथी नसीर अहमद मीर के साथ मारा गया. जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी एसपी वैद ने एक ट्वीट कर इसकी पुष्टि की है.

खबरों के मुताबिक सेना और अर्धसैनिक बलों को एक गांव में आतंकियों के होने की ख़बर मिली थी. ख़बर मिलने के बाद तलाशी अभियान शुरू किया गया. इस दौरान एक घर से आतंकियों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं. सुरक्षाबलों की ओर से हुई जवाबी फ़ायरिंग में दो आतंकियों की मौत हो गई. बाद में पता चला कि इनमें से एक लश्कर कमांडर वसीम शाह भी था. वह दक्षिणी कश्मीर में लश्कर के शीर्ष सक्रिय कमांडरों में से एक था. वह शोपियां का निवासी था और उन 12 आतंकियों में से एक था जिनकी सेना को सबसे ज़्यादा तलाश है.

उधर, टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक़ वसीम शाह को ‘अबू ओसामा भाई और वसीम लेफ़्टी’ के नाम से भी जाना जाता था. वह 2014 में आतंकी गतिविधियों का हिस्सा बन गया था. मार्च 2017 में वह बतौर कमांडर लश्कर में शामिल हुआ. पिछले साल दक्षिणी कश्मीर में अशांति फैलाने में वसीम शाह ने प्रमुख भूमिका निभाई थी. उसके साथ मारा गया नसीर अहमद मीर इसी साल आतंकी बना था.