जब से केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाली सरकार बनी है, तब से पार्टी के सदस्य और ख़ुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई बार कांग्रेस पर सरदार वल्लभभाई पटेल की उपेक्षा करने का आरोप लगा चुके हैं. हिमाचल प्रदेश और गुजरात विधानसभा चुनावों को लेकर हो रहीं पार्टी की रैलियों में भी नरेंद्र मोदी सरदार पटेल को लेकर कांग्रेस पर हमलावर हैं. ख़ुद को पटेल का ‘चेला’ बताने वाले प्रधानमंत्री मोदी उन्हें लेकर कई दावे कर रहे हैं.

अब एक ख़बर सोशल मीडिया पर तेज़ी से फैल रही है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया है कि सरदार पटेल की शवयात्रा में देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू शामिल नहीं हुए थे. यह एक बड़ा आरोप है. ख़बर वायरल होने के बाद भाजपा समर्थक देश के पहले प्रधानमंत्री की आलोचना कर रहे हैं और कांग्रेस पक्ष के लोग भाजपा पर गिरी हुई राजनीति करने का आरोप लगा रहे हैं.

यहां दो सवाल हैं. पहला यह कि जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल की शवयात्रा में शामिल हुए थे या नहीं. दूसरी यह कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बात कही है या नहीं. पहले सवाल का जवाब नीचे दिए वीडियो को देखने से मिल जाता है. इसमें सरदार पटेल की शवयात्रा में जवाहरलाल नेहरू को साफ़-साफ़ देखा जा सकता है.

Play

अब बात नरेंद्र मोदी के दावे की. सोशल मीडिया पर हो रहा यह दावा सही और ग़लत दोनों ही है. सही इसलिए क्योंकि नरेंद्र मोदी ने कहा था कि जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल की शवयात्रा में शामिल नहीं हुए, लेकिन यह ग़लत है कि ‘प्रधानमंत्री’ नरेंद्र मोदी ने यह बात कही. इसे समझने के लिए नरेंद्र मोदी के नाम के आगे से ‘प्रधानमंत्री’ हटाना पड़ेगा क्योंकि ऐसा पीएम मोदी ने नहीं बल्कि सीएम मोदी ने कहा था.

ख़बर पर जाने के लिए तस्वीर पर क्लिक करें.
ख़बर पर जाने के लिए तस्वीर पर क्लिक करें.
वीडियो न्यूज़ पैकेज का कैप्शन.
वीडियो न्यूज़ पैकेज का कैप्शन.

मामला अक्टूबर 2013 का है. ख़बर के मुताबिक़ अहमदाबाद के एक अख़बार को दिए इंटरव्यू में मोदी ने दावा किया था कि जवाहरलाल नेहरू देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की अंतिम यात्रा में नहीं गए थे. इस दावे को लेकर भाजपा पर भी मोदी का बचाव करने के आरोप लगे थे. बाद में कुछ ख़बरों में सबूत के साथ बताया गया कि जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल की शवयात्रा में शामिल हुए थे. पटेल के पार्थिव शरीर को ले जा रहे वाहन पर नेहरू साफ़ दिखाई दे रहे हैं. ऊपर वीडियो में (1:40 सेकंड पर) उन्हें देखा जा सकता है.

ख़बर के लिए तस्वीर पर क्लिक करें.
ख़बर के लिए तस्वीर पर क्लिक करें.

यानी ये दोनों ही बातें ग़लत हैं कि नेहरू पटेल की शवयात्रा में नहीं गए और नरेंद्र मोदी ने बतौर प्रधानमंत्री ऐसा कहा. तकनीकी रूप से यह कहना ही सही होगा कि गुजरात के मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी ने नेहरू को लेकर यह दावा किया था.