एपल पहली बार कैंपस प्लेसमेंट के लिए भारत आएगी

तकनीकी क्षेत्र की मशहूर कंपनी एपल कैंपस प्लेसमेंट के लिए पहली बार भारत आ रही है. एपल इस साल हैदराबाद स्थित इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (आईआईआईटी) में कैंपस प्लेसमेंट करेगी. संस्थान की प्लेसमेंट सेल के प्रमुख टीवी देवी प्रसाद ने कहा, ‘हम लोग इस बात से काफी खुश हैं कि एपल ने हमारे यहां कैंपस प्लेसमेंट के लिए आने का फैसला किया है.’ (विस्तार से)

मोदी सरकार ने पैराडाइज पेपर्स मामले की जांच के आदेश दिए

केंद्र ने सोमवार को पैराडाइज पेपर्स लीक मामले की जांच के आदेश दे दिए. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के अध्यक्ष सुशील चंद्रा की अगुवाई में होने वाली इस जांच को उसी ‘मल्टी एजेंसी समूह’ को सौंपा गया है जो पनामा पेपर्स मामले की जांच कर रहा है. इसमें प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) और वित्तीय खुफिया इकाई (एफआईयू) के प्रतिनिधि शामिल होंगे. उधर, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने भी अलग से जांच कराने की घोषणा की है. (विस्तार से)

पैराडाइज पेपर्स को लेकर प्रतिक्रिया मांगने पर भाजपा सांसद आरके सिन्हा ने लिखा, 7 दिन का मौन व्रत

भाजपा के टिकट पर राज्यसभा गए सांसद रवींद्र किशोर सिन्हा पैराडाइज पेपर्स में नाम आने के बाद हफ्ते भर के लिए ‘मौन व्रत’ पर चले गए हैं. सोमवार को इस बारे में पूछे जाने पर प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी एसआईएस के मालिक आरके सिन्हा ने कागज पर लिख कर बताया कि अगले हफ्ते ‘भागवत यज्ञ’ पूरा होने तक उनका मौन व्रत है. (विस्तार से)

पनामा पेपर्स की तर्ज़ पर अब पैराडाइज़ पेपर्स, अमिताभ बच्चन सहित कई भारतीयों के नाम शामिल

नोटबंदी की पहली वर्षगांठ के मौक़े पर सरकार ‘कालाधन-विरोधी दिवस’ मनाने की सोच रही है. लेकिन पनामा पेपर्स की तरह लीक हुए ‘पैराडाइज़ पेपर्स’ उसके लिए मुश्किल का सबब बन सकते हैं. बताया जा रहा है कि इन दस्तावेज़ों में कुल 714 भारतीयों के नाम शामिल हैं. इनमें अमिताभ बच्चन, नीरा राडिया के अलावा केंद्रीय उड्डयन मंत्री जयंत सिन्हा और भाजपा के राज्यसभा सदस्य आरके सिन्हा के नाम शामिल हैं. (विस्तार से)

अमेरिका: चर्च में बंदूकधारी की अंधाधुंध गोलीबारी, 26 की मौत

अमेरिका में गोलीबारी की एक और घटना सामने आई है. टेक्सास राज्य के सदरलैंड स्प्रिंग्स के विलसन काउंटी स्थित फ़र्स्ट बैप्टिस्ट चर्च में रविवार को एक बंदूकधारी ने प्रार्थना सभा के दौरान लोगों पर गोलियां चला दीं. इसमें 26 लोगों की मौत हो गई, जबकि 20 लोग घायल हो गए. पुलिस के अनुसार हमलावर भी मारा गया है. (विस्तार से)

भ्रष्टाचार पर सऊदी अरब की यह कार्रवाई भारत के लिए भी एक मिसाल हो सकती है

सऊदी अरब में भ्रष्टाचार के मामलों में एक बड़ी कार्रवाई की गई है. सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस (राजा के बाद दूसरा सबसे शक्तिशाली पद) मोहम्मद बिन सलमान के आदेश पर कई बड़ी हस्तियों को ग़िरफ़्तार किया गया है. इनमें शाही परिवार के 11 राजकुमार शामिल हैं. उनके अलावा चार मौज़ूदा मंत्री, 12 से ज्यादा पूर्व मंत्री और कई बड़े कारोबारी हैं. (विस्तार से)

तेलंगाना के लाखों किसानों को अगले एक हफ़्ते तक मुफ़्त बिजली

तेलंगाना के 20 लाख किसानों को अगले एक हफ़्ते तक 24 घंटे मुफ़्त बिजली मिलेगी. राज्य सरकार ने एक हफ़्ते का ट्रायल सोमवार से शुरू कर दिया है. अधिकारियों ने इसे अपनी तरह का पहला क़दम बताया है. तेलंगाना पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन (ट्रांस्को) के अध्यक्ष देवुलापल्ली प्रभाकर राव ने कहा, ‘हम कृषि क्षेत्र को एक हफ़्ते के लिए 24 घंटे मुफ़्त बिजली देंगे. किसानों की मांग के आधार पर स्थिति की समीक्षा करेंगे.’ (विस्तार से)

राजधानी और शताब्दी जैसी ट्रेनों की सुस्त रफ्तार के बीच 48 ट्रेनें ‘सुपरफास्ट’ घोषित

रेलवे ने 48 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को ‘सुपरफास्ट’ ट्रेन घोषित कर उनका किराया बढ़ा दिया है. एक नवंबर को जारी नई समय सारणी में इन ट्रेनों की औसत रफ्तार को 50 किमी प्रति घंटा से बढ़ाकर 55 किमी प्रति घंटा कर दिया गया है. इसके लिए यात्रियों को अब स्लीपर के टिकट पर 30 रु, दूसरे और तीसरे दर्ज के एसी टिकट पर 45-45 रु और पहले दर्जे के एसी टिकट पर 75 रु ज्यादा देने पड़ेंगे. (विस्तार से)

दिल्ली हाई कोर्ट ने ओएनजीसी में संबित पात्रा की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका खारिज की

दिल्ली हाई कोर्ट ने सार्वजनिक क्षेत्र की नवरत्न कंपनी ओएनजीसी में भाजपा के प्रवक्ता डॉ. संबित पात्रा को स्वतंत्र निदेशक बनाने के मामले में दखल देने से इंकार कर दिया है. चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी हरि शंकर ने सोमवार को एनजीओ एनर्जी वॉचडॉग की याचिका को खारिज कर दिया. (विस्तार से)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शालीनता से नोटबंदी की भूल को स्वीकार कर लेना चाहिए : मनमोहन सिंह

नोटबंदी की पहली वर्षगांठ से ठीक पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के फैसले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बहुत बड़ी भूल बताया है. उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि नोटबंदी को लेकर राजनीति करने का समय अब खत्म हो चुका है.’ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आगे कहा, ‘इस समय प्रधानमंत्री (नरेंद्र मोदी) को शालीनता से (नोटबंदी की) भूल को स्वीकार कर लेना चाहिए और अर्थव्यवस्था को दोबारा खड़ा करने के लिए सभी से समर्थन मांगना चाहिए.’ (विस्तार से)