एपल के साथ पेटेंट विवाद में सैमसंग को बड़ा झटका लगा है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार सोमवार को अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने निचली अदालत के खिलाफ सैमसंग की अपील को खारिज कर दिया. निचली अदालत ने सैमसंग से स्लाइड टु अनलॉक, ऑटोकरेक्ट और क्विक लिंक्स जैसे फीचर्स के पेटेंट उल्लंघन के लिए एपल को 12 करोड़ डॉलर (लगभग 780 करोड़ रुपये) देने का आदेश दिया था.

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने स्मार्टफोन बनाने वाली दुनिया की शीर्ष कंपनियों के मामले में दखल देने से इनकार कर दिया और 2016 के अपीलीय अदालत के फैसले को बरकरार रखा. इस आदेश में निचली अदालत के फैसले को सही ठहराया था, जिसमें दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स को एपल इंक के कई पेटेंट का उल्लंघन का दोषी माना गया था. उधर, सैमसंग ने अपनी अपील में पेटेंट अदालत के जज पर फैसले की समीक्षा के दौरान कानूनी प्रक्रिया का पालन न करने का आरोप लगाया था. उसने यह भी आरोप लगाया कि जज ने बगैर सुनवाई या अन्य कानूनी दस्तावेजों को देखे ही आदेश पारित कर दिया. वहीं, एपल ने दलील दी कि सैमसंग की अपील में कुछ भी गौर करने लायक नहीं है.

हालांकि, सैमसंग को इससे पहले एक अन्य मामले में सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल चुकी है. पिछले साल दिसंबर में अदालत ने एपल के आईफोन की डिजाइन को कॉपी करने के मामले में सैंमसंग पर 39.9 करोड़ डॉलर (2,594 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाने वाले फैसले को पलट दिया था.