गुड़गांव के रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के छात्र प्रद्युमन ठाकुर की हत्या के मामले में एक नया मोड़ आ गया है. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक़ सीबीआई ने स्कूल के ही एक छात्र को हिरासत में लिया है. कहा जा रहा है कि 11वीं का यह छात्र स्कूल की परीक्षा और पेरेंट्स-टीचर मीटिंग टलवाना चाहता था, इसलिए उसने प्रद्युमन की हत्या कर दी ताकि स्कूल की छुट्टी घोषित कर दी जाए. सीबीआई के सूत्रों का कहना है कि हिरासत में लिए गए छात्र ने प्रद्युमन की हत्या करने की बात क़बूल की है. उन्होंने कहा कि उनके पास इसके साक्ष्य भी हैं.

वहीं, छात्र के पिता ने दावा किया कि उनके बेटे को साज़िश के तहत मामले में घसीटा गया है. उन्होंने बताया कि उनके बेटे से सीबीआई के दिल्ली स्थित मुख्यालय में पूरे दिन पूछताछ की गई थी. उनके मुताबिक़ उनका बेटा पहला शख्स था जिसने हत्या वाले दिन प्रद्युमन को सबसे पहले देखा था. छात्र के पिता ने सीबीआई पर उनके बेटे को प्रताड़ित करने का भी आरोप लगाया. उन्होंने दावा किया कि बेटे को हिरासत में लिए जाने से पहले उन्हें उससे नहीं मिलने दिया गया.

इस हत्याकांड में बस कंडक्टर अशोक कुमार का हाथ होने को लेकर कोई जानकारी नहीं मिली है. मामला सामने आने के बाद अशोक को गिरफ़्तार कर लिया गया था. तब पुलिस ने कहा था कि अशोक ने हत्या करने की बात क़बूल की है. लेकिन अधिकारियों का कहना है कि उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला है.