आज हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं. यह चुनाव एक ही चरण में संपन्न हो रहा है जिसमें 68 सीटों का फैसला होगा. इसी राज्य के किन्नौर जिले में स्वतंत्र भारत के पहले मतदाता श्याम शरण नेगी भी रहते हैं.

वोटर और प्रत्याशी

इस चुनाव में करीब 50 लाख मतदाता हैं. उनके हाथ में कुल में 338 प्रत्याशियों की किस्मत होगी. इनमें 19 महिलाएं हैं.

सबसे ज्यादा और कम उम्मीदवारों वाली सीटें

सबसे ज्यादा उम्मीदवार धर्मशाला सीट से मैदान में हैं. यहां अलग-अलग पार्टियों के 12 प्रत्याशी हैं. सबसे कम उम्मीदवारों वाली सीट बिलासपुर जिले की झंडुता है जहां से दो उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं.

सबसे बड़ा और छोटा निर्वाचन क्षेत्र

वोटरों के लिहाज से सबसे बड़ी विधानसभा सीट कांगड़ा जिले में पड़ने वाली सुल्लाह है जबकि क्षेत्रफल के लिहाज से लाहौल स्पीति सबसे बड़ी सीट है. दिलचस्प बात है कि यह वोटरों के मामले में सबसे छोटी सीट है.

पोलिंग स्टेशन और ईवीएम की संख्या

इस चुनाव में कुल पोलिंग स्टेशनों की संख्या 7525 है. इनमें रखी 11283 ईवीएम मशीनों के जरिये प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा.