केंद्रीय पर्यटन मंत्री और भाजपा नेता अल्फोंस कन्नाथनम राजस्थान से राज्यसभा पहुंच गए हैं. गुरुवार को उन्हें निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार कांग्रेस या अन्य दलों ने उनके खिलाफ किसी उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारा था. राज्यसभा की यह सीट पूर्व सांसद वेंकैया नायडू के उपराष्ट्रपति चुने जाने के बाद खाली हुई थी.

केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नाथनम ने सोमवार को नामांकन पर्चा भरा था. राज्यसभा के लिए निर्विरोध चुने जाने की घोषणा के बाद उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और विधायकों के साथ-साथ राजस्थान के नागरिकों को धन्यवाद कहा.

1979 बैच के पूर्व आईएएस अल्फोंस कन्नाथनम को सितंबर में मोदी सरकार में शामिल किया गया था. उन्हें राज्यमंत्री के रूप में पर्यटन के साथ इलेक्ट्रनिक्स और संचार तकनीक मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई थी. अल्फोंस कन्नाथनम दिल्ली विकास प्राधिकरण में आयुक्त रहने के दौरान अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई के लिए जाने जाते हैं. इसकी वजह से उन्हें ‘डिमोलिशन मैन’ कहा जाने लगा था.