गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर किए गए एक सर्वे में भाजपा की जीत का अनुमान लगाया गया है. हालांकि उसे अपने 150 सीटों के निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक़ सीटें नहीं मिलती दिख रहीं. एबीपी-सीएसडीएस द्वारा किए गए इस सर्वे के मुताबिक़ भाजपा को 113 से 121 सीटें मिल सकती हैं जबकि कांग्रेस को 58 से 64 सीटें मिलने की बात कही गई है.

दूसरे चरण के तहत अक्टूबर के आख़िरी हफ़्ते में किए गए पोल में बताया गया कि भाजपा की सीटें कम हो सकती हैं. अगस्त में पहले चरण के तहत हुए सर्वे में इससे ज़्यादा सीटें मिलने की बात कही गई थी. ताज़ा सर्वे में बताया गया कि भाजपा को राज्य में 47 प्रतिशत वोट मिलेंगे. अगस्त में यह आंकड़ा 59 प्रतिशत बताया गया था. वहीं, कांग्रेस को 41 प्रतिशत वोट मिलने की बात कही गई है. यानी उसके वोटों में 12 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है.

सर्वे के मुताबिक़ कांग्रेस को सौराष्ट्र-कच्छ और उत्तरी गुजरात में बढ़त मिलती दिख रही है. सौराष्ट्र में जहां दोनों पार्टियों में (42-42 प्रतिशत वोट के साथ) बराबर की टक्कर है, वहीं उत्तरी गुजरात में कांग्रेस को सात प्रतिशत ज़्यादा वोट मिल सकते हैं. इन प्रांतों में राज्य की कुल 182 सीटों में से 107 सीटें आती हैं. मध्य गुजरात में कांग्रेस मज़बूत रही है लेकिन, इस बार यहां उसकी पकड़ कमज़ोर होती दिख रही है. सर्वे के मुताबिक़ कांग्रेस, भाजपा से 16 प्रतिशत वोटों से पिछड़ सकती है. उधर, दक्षिणी गुजरात का झुकाव भाजपा के पक्ष में दिख रहा है. सर्वे में बताया गया है कि पार्टी यहां 51 प्रतिशत वोट हासिल कर सकती है जबकि कांग्रेस को यहां 33 प्रतिशत वोट मिलने की संभावना जताई गई है.