राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर चल रही अटकलों पर विराम लगा दिया है. शुक्रवार को पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने ऐलान किया कि उनके छोटे बेटे और राज्य के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव इस पद के दावेदार होंगे.

लालू प्रसाद यादव ने पटना में पत्रकारों से कहा, ‘राष्ट्रीय जनता दल 2020 का विधानसभा चुनाव तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ेगा. वे ही हमारे मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे.’ राजद प्रमुख ने बतौर उप-मुख्यमंत्री और वर्तमान में नेता विपक्ष के तौर पर अपने बेटे के कामों की प्रशंसा भी की है. कल यानी नौ नवंबर को अपना 28वां जन्मदिन मनाने वाले तेजस्वी यादव नवंबर 2015 से जुलाई 2017 तक नीतीश कुमार की सरकार में उप-मुख्यमंत्री रह चुके हैं.

इससे पहले बुधवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता रामचंद्र पूर्वे ने तेजस्वी यादव को अगले चुनाव में मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित करने का प्रस्ताव दिया था. इसके बाद पार्टी के दो अन्य वरिष्ठ नेताओं अब्दुल बारी सिद्दिकी और रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा था कि समय आने पर इस पर विचार किया जाना चाहिए. इन्होंने पूर्वे के प्रस्ताव से अस​हमति जताते हुए मीडिया से भी कहा कि उनकी पार्टी में मुख्यमंत्री पद के चेहरे को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है. बहरहाल लालू प्रसाद यादव के ताजा बयान से अब इस मामले पर चल रही अटकलें खत्म हो जाने की संभावना जताई जा रही है.