अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर और विकिलीक्स के बीच राष्ट्रपति चुनाव के दौरान और उसके बाद भी ट्विटर पर निजी बातचीत हुई थी. सोमवार को डोनाल्ड ट्रंप जूनियर ने यह निजी बातचीत ट्विटर पर शेयर की. टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक़ जूनियर ट्रंप ने जो जानकारियां ट्विटर पर डाली हैं उनमें विकिलीक्स ने अपने बारे में सकारात्मक टिप्पणियां करने पर डोनाल्ड ट्रंप की प्रशंसा की है. साथ ही, उसने जूनियर ट्रंप से उनके पिता के टैक्स रिटर्न की जानकारी भी साझा करने को कहा है. इसके अलावा जूनियर ट्रंप ने उनके पिता की प्रतिद्वंद्वी डेमोक्रेट हिलरी क्लिंटन के लीक ईमेलों से संबंधित बातचीत भी शेयर की है. अमेरिकी पत्रिका द एटलांटिक ने सबसे पहले इस बातचीत की रिपोर्ट दी थी.

जूनियर ट्रंप द्वारा जारी किए निजी संदेश बताते हैं कि उन्होंने विकिलीक्स के अकाउंट पर तीन बार प्रतिक्रिया दी. इनमें जुलाई 2017 में विकिलीक्स के अकाउंट की तरफ़ से जूनियर ट्रंप से रूसी अधिकारियों और डोनाल्ड ट्रंप के सहयोगियों के बीच हुई मुलाक़ात से संबंधित ईमेलों की जानकारी देने को कहा गया. लेकिन जूनियर ट्रंप ने ख़ुद ही ये जानकारियां रिलीज़ कर दीं.

इस मुद्दे पर उप-राष्ट्रपति माइक पेंस ने तुरंत प्रतिक्रिया दी है. उनका कहना था कि वे इस बात से अनजान थे कि उनके प्रचार अभियान से जुड़ा कोई शख्स विकीलीक्स के साथ संपर्क में है.

डोनाल्ड ट्रंप जूनियर के इस तरह निजी बातचीत शेयर करने के बाद अमेरिकी संसद में यह मांग उठ सकती है कि वे अमेरिकी चुनाव में रूसी हस्तक्षेप को लेकर सार्वजनिक रूप से गवाही दें. इस मामले में विकिलीक्स पर आरोप है कि रूसी सेना के ख़ुफ़िया विभाग ने हैकिंग के ज़रिए डेमोक्रेटिक पार्टी और उसके वरिष्ठ अधिकारियों की जानकारियां उससे शेयर की थीं. हालांकि विकिलीक्स इससे इनकार करती रही है.

उधर, द एटलांटिक की रिपोर्ट पर विकिलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज ने पहले तो कहा कि वे इन संदेशों की पुष्टि नहीं कर सकते. लेकिन डोनाल्ड ट्रंप जूनियर की तरफ़ से बातचीत जारी किए जाने के बाद वे बचाव की मुद्रा में आ गए. वहीं, राष्ट्रपति ट्रंप के विरोधी डेमोक्रेट पार्टी के सदस्यों ने प्रतिक्रिया देने में देर नहीं की. उन्होंने कहा कि जूनियर ट्रंप को और जानकारी देनी चाहिए.