‘जनाक्रोश के दबाव में भाजपानीत केंद्र सरकार ने जीएसटी में कटौती की है.’

— अखिलेश यादव, सपा अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का यह बयान वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) काउंसिल द्वारा जीएसटी की दरों में हालिया कटौती को लेकर आया. उन्होंने कहा कि गुजरात के मतदाता आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को आईना दिखाने के लिए तैयार हैं. अखिलेश यादव ने आगे कहा, ‘जनता ने नोटबंदी और जीएसटी के लिए भाजपा को सजा देने का फैसला कर लिया है.’ उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव में भाजपा की स्थिति निराशाजनक है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव खत्म होने के बाद गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए जाने की घोषणा की.

‘राहुल गांधी अच्छे नेता नहीं बन सके, पर अच्छे मिमिक्री कलाकार जरूर बन गए हैं.’

— मुख्तार अब्बास नकवी, अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का यह बयान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने के जवाब में आया. उन्होंने कहा, ‘एक तरफ कांग्रेस के पास अनुशासन, नीति या नियम नहीं है, दूसरी तरफ एक मिमिक्री कलाकार हैं जो हंसी का लॉलीपॉप दिखाकर वोट मांग रहे हैं.’ अयोध्या विवाद को बातचीत से सुलझाने की श्री श्री रविशंकर की कोशिश पर मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, ‘अगर कोई मध्यस्थता करके इसे सुलझाने की कोशिश कर रहा है तो यह अच्छी बात है, लेकिन केंद्र इसमें शामिल नहीं होगा.’ केंद्रीय मंत्री के मुताबिक अयोध्या विवाद का अगर आपसी सहमति से सुलझ जाता है तो यह आदर्श स्थिति होगी.


‘जनता नोटबंदी और जीएसटी की विफलता के लिए वित्त मंत्री (अरुण जेटली) से इस्तीफा मांग सकती है.’

— यशवंत सिन्हा, भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री

भाजपा नेता यशवंत सिन्हा का यह बयान नोटबंदी और वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) से भारतीय अर्थव्यवस्था पर पड़े असर की चर्चा करते हुए आया. उन्होंने अर्थव्यवस्था में गिरावट के लिए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को जिम्मेदार ठहराया. यशवंत सिन्हा ने आगे कहा कि मौजूदा सरकार को पिछली सरकार से मिली समस्याओं को दूर नहीं कर पाई है जो बहुत जरूरी था. उन्होंने आगे कहा कि बैंकों की गैर-निष्पादित संपत्ति (एनपीए) अभी भी आठ लाख करोड़ रुपये बनी हुई है. यशवंत सिन्हा के मुताबिक एनपीए की वजह से ही यूपीए सरकार के समय की 6.5 फीसदी की विकास दर अब घटकर 5.7 फीसदी हो गई है.


‘एफआईआर दर्ज होने के आधार पर केवल केजे जॉर्ज को ही नहीं, बल्कि केंद्र के 24 मंत्रियों को भी कुर्सी छोड़नी पड़ेगी.’

— सिद्धारमैया, कर्नाटक के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का यह बयान मंत्री केजे जॉर्ज को हटाने की विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘केजे जॉर्ज ने आरोप लगाने के बाद इस्तीफा दे दिया था. लेकिन सीआईडी से क्लीनचिट मिलने के बाद उन्हें दोबारा मंत्री बनाया गया है.’ सिद्धारमैया ने कहा कि इस मामले में पूरी पार्टी एकजुट है. उपपुलिस अधीक्षक एमके गणपति की खुदकुशी मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने एफआईआर में केजे जॉर्ज और तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का नाम दर्ज किया है. इसी आधार पर भाजपा उन्हें हटाने की मांग कर रही है.


‘धोनी पर टिप्पणी करने से पहले लोगों को अपने करियर पर गौर कर लेना चाहिए.’

— रवि शास्त्री, भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच

कोच रवि शास्त्री का यह बयान महेंद्र सिंह धोनी को दुनिया का सबसे सफल कप्तान बताते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘महेंद्र सिंह धोनी में अभी बहुत क्रिकेट बाकी है और इस महान खिलाड़ी का समर्थन करना टीम की जिम्मेदारी है.’ रवि शास्त्री ने आगे कहा कि विकेट कीपिंग और बल्लेबाजी से लेकर मैदान पर सतर्कता और तेजी के मामले में महेंद्र सिंह धोनी से बेहतर कोई दूसरा नहीं है. महेंद्र सिंह धोनी के कमजोर प्रदर्शन और टी-20 की टीम में जगह दिए जाने पर हाल ही में वीवीएस लक्ष्मण और अजीत अगरकर ने सवाल उठाया था.


‘रूस पश्चिमी देशों में साइबर जासूसी से लेकर चुनावों को प्रभावित करने जैसी कोशिशें कर रहा है.’

— टेरेसा मे, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री

ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे का यह बयान रूस पर पश्चिमी देशों की वायु सीमाओं का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए आया. उन्होंने आगे कहा, ‘रूस सूचनाओं को हथियार की तरह इस्तेमाल करने और पश्चिम देशों में फूट डालने के लिए फर्जी खबरों को प्रसारित करने की कोशिश कर रहा है.’ टेरेसा मे ने कहा, ‘हमें मालूम है कि आप (रूस) क्या कर रहे हैं, लेकिन आप सफल नहीं हो पाएंगे, क्योंकि आप हमारे लोकतंत्र के लचीलेपन, स्वतंत्र और खुले समाज के आकर्षण और पश्चिम देशों की एकजुट रहने की प्रतिबद्धता को कम करके आंक रहे हैं.’ उनका यह भी कहना था कि ब्रिटेन अपनी और अपने सहयोगियों को रूस से बचाने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएगा.