कुख्यात आतंकी संगठन आईएस (इस्लामिक स्टेट) देश में कुंभ मेला और केरल के त्रिशूर पूरम जैसे आयोजनों को निशाना बनाने की तैयारी कर रहा है. ये हमले लोन वूल्फ अटैक (इसमें एक अकेला आतंकी हमले को अंजाम देता है) की शक्ल में हो सकते हैं. इस संदेश के बाद एनआईए और केरल पुलिस निगरानी के साथ ही इस मामले की जांच आदि में अतिरिक्त चौकसी बरत रहे हैं.

द फाइनेंशियल एक्सप्रेस के मुताबिक केरल पुलिस और एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) को 10 मिनट की एक ऑडियो क्लिप हाथ लगी है. इसमें आईएस का कोई सरगना केरल में अपने स्थानीय समर्थकों को आतंकी हमले के लिए उकसाते हुए सुनाई दे रहा है. माना जा रहा है कि ऑडियो क्लिप में आवाज राशिद अब्दुल्ला नाम के शख़्स की है. अब्दुल्ला केरल के ही कासरगोड का रहने वाला है. फिलहाल वह अफगानिस्तान में कहीं है. ख़बर के मुताबिक हमले का यह संदेश टेलीग्राम एप के जरिए भेजा गया है. इसे कुछ दिन पहले ही एनआईए ने हासिल किया था. यही नहीं केरल पुलिस के सूत्रों की मानें तो राशिद ने इस एप के जरिए पिछले कुछ समय में करीब 50 संदेश भेजे हैं.

ख़बर में ज़ी न्यूज़ के हवाले से इस ऑडियो क्लिप के कुछ हिस्से का उल्लेख है. इसमें कहा जा रहा है, ‘अपने दिमाग का इस्तेमाल करो. उन्हें (आम लोगों को) खाने में जहर दे दो. ट्रक का इस्तेमाल करो. त्रिशूर पूरम और महाकुंभ मेले जैसे आयोजनों के दौरान उन्हें ट्रक से कुचल डालो. आईएस के लड़ाके दुनिया के कई हिस्सों में यही कर रहे हैं. अभी लास वेगस (अमेरिका) में हमारे एक समर्थक ने संगीत समारोह के दौरान कई लोगों को कत्ल कर दिया. और कुछ नहीं तो तुम लोगों (भारतीय समर्थकों) को ट्रेनें ही बेपटरी कर देनी चाहिए. या फिर चाकू का भी हमले के लिए इस्तेमाल कर सकते हो.’ बताते चलें कि ये सभी तरीके लोन वूल्फ अटैक के ही माने जाते हैं.