‘अर्थव्यवस्था में नगद लेन-देन का बोलबाला अब कम हो रहा है.’

— अरुण जेटली, केंद्रीय वित्त मंत्री

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का यह बयान देश में डिजिटल लेन-देन बढ़ने का दावा करते हुए आया. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के आर्थिक फैसलों ने इतिहास का एक नया अध्याय लिखा है. पेटीएम पेमेंट बैंक का उद्घाटन करते हुए अरुण जेटली ने कहा, ‘हम एक ऐसी व्यवस्था की तरफ जा रहे हैं जहां सुविधा, सुरक्षा और स्वामित्व भुगतान के तौर-तरीकों बदलाव पर निर्भर कर रहा है. दूसरी कंपनियां भी इससे सीख ले सकती हैं.’ केंद्रीय वित्त मंत्री के मुताबिक पेमेंट बैंक जैसी व्यवस्थाओं से वित्तीय समावेशन का व्यापक विस्तार हो रहा है.

‘अगर कोयले को जीएसटी के दायरे में लाया जा सकता है तो प्राकृतिक गैस क्यों नहीं?’

— धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री

केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का यह बयान प्राकृतिक गैस को वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) के दायरे में लाने का समर्थन करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘हम देश को गैर-आधारित अर्थव्यवस्था बनाना चाहते हैं. इसके लिए गैस-ग्रिड बनाने के लिए पूंजी व्यय की शुरुआत की गई है.’ भारत में ऊर्जा खपत को दूसरे देशों के मुकाबले कम बताते हुए धर्मेंद्र प्रधान का कहना था कि भारत अगले 25 वर्षों में दुनिया की 25 फीसदी ऊर्जा की खपत करने लगेगा जो अभी केवल छह फीसदी है. उनके मुताबिक भारत को इसके लिए पारंपरिक और नवीनीकृत सहित सभी तरह के ऊर्जा स्रोतों की जरूरत पड़ेगी.


‘हमारी सरकार सहकारी संघवाद में भरोसा करती है.’

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह बयान राजनीतिक आधार पर किसी भी राज्य के साथ भेदभाव की आशंका को खारिज करते हुए आया. हैदराबाद में उन्होंने कहा, ‘तेलंगाना नया राज्य है. लेकिन मैं भरोसा दिलाता हूं कि दिल्ली की भाजपा सरकार राजनीतिक आधार पर उसके साथ कोई भेदभाव नहीं करेगी.’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि उनकी सरकार ‘प्रतिस्पर्धात्मक सहकारी संघवाद’ को बढ़ावा देती है. सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं सरदार पटेल को इस वीर भूमि से नमस्कार करता हूं, जिन्होंने हैदराबाद रियासत को भारत में मिलाया था.’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेलंगाना राज्य के लिए संघर्ष करने वालों को भी याद किया.


‘नीतीश कुमार, जिन्हें पहले सुशासन के लिए जाना जाता था, अब भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह बन गए हैं.’

— तेजस्वी यादव, राजद नेता और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री

पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का यह बयान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर घोटालों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाते हुए आया. विधानसभा में उन्होंने कहा, ‘एक भी दिन ऐसा नहीं गुजरता जब बिहार के लोग अखबार और टीवी खोलें और उन्हें भ्रष्टाचार या घोटाले की खबर न मिले.’ बेनामी संपत्ति के आरोपों पर तेजस्वी यादव ने कहा कि उन्होंने बिहार का उपमुख्यमंत्री रहते हुए कोई घोटाला या गलत काम किया हो तो वे उसके बारे में जानना चाहते हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए उन्होंने आगे कहा कि उन पर हत्या का आरोप है और इस मामले में अदालत उन पर जुर्माना भी लगा चुकी है.


‘बचपन में चाय बेचने से लेकर भारत का प्रधानमंत्री बनने तक आपकी (नरेंद्र मोदी) सारी उपलब्धियां असाधारण हैं.’

— इवांका ट्रंप, व्हाइट हाउस की सलाहकार और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी

व्हाइट हाउस की सलाहकार इवांका ट्रंप का यह बयान भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों की सराहना करते हुए आया. हैदराबाद में आठवें ग्लोबल आंत्रप्रन्योर समिट को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को एक संपन्न अर्थव्यवस्था, लोकतंत्र का पुंज और दुनिया की आशा का केंद्र बनाने की कोशिश कर रहे हैं.’ इवांका ट्रंप ने आगे कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस भरोसे की प्रशंसा करना चाहती हूं कि महिला सशक्तिकरण के बगैर मानवता का विकास असंभव है.’ इवांका ट्रंप के मुताबिक भारत अगर अपने श्रम क्षेत्र से महिला और पुरुष के बीच का भेदभाव मिटा दे तो अगले तीन साल में 150 अरब डॉलर से बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है.