उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में भाजपा ने बड़ी जीत दर्ज की है. न्यूज18 के मुताबिक भाजपा वाराणसी, गोरखपुर, फैजाबाद और मथुरा सहित मेयर की 14 सीटों को जीतने में सफल रही है. वहीं, बसपा ने अलीगढ़ और मेरठ में मेयर सीट पर जीत दर्ज की है. इस चुनाव में कांग्रेस को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा है. पार्टी के गढ़ और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र की अमेठी नगर पंचायत पर भाजपा कब्जा जमाने में सफल रही है. उत्तर प्रदेश में बीते माह 16 नगर निगमों, 198 नगर पालिका परिषद और 438 नगर पंचायत के लिए तीन चरणों में मतदान कराया गया था.

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने नगर निकाय चुनाव के परिणाम को सभी की आंखें खोलने वाला बताया है. उन्होंने कहा, ‘यह चुनाव हमको जिम्मेदार बनाने के लिए है. यह चुनाव सभी आंखें खोलने वाला है. और जो लोग इसे गुजरात से जोड़कर देखते थे, उनकी आंखें भी खोलने वाला है.’ वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नगर निकाय चुनाव में पार्टी की जीत को विकास की जीत बताया है और जनता को इसके लिए धन्यवाद कहा है. इससे पहले उत्तर प्रदेश में पार्टी प्रमुख महेंद्र नाथ पाण्डेय ने कहा था कि पार्टी अपने दम पर चुनाव जीती है, जबकि कांग्रेस और अन्य दल एक दूसरे की भीतर से मदद कर रहे थे. राज्य के चिकित्सा मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने इस परिणाम को 2019 के आम चुनाव का संकेत बताया था.

राज्य चुनाव आयोग ने नगर निगमों में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन से और नगर निकाय की बाकी सीटों पर मत पत्रों से मतदान कराया था. मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अपने उम्मीदवारों के पक्ष में जमकर प्रचार किया था. वहीं, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने प्रचार से दूरी बनाए रखी थी.