‘कांग्रेस वंशवादी राजनीति की वजह से चुनावों में हार रही है.’

— शहजाद पूनावाला, महाराष्ट्र में कांग्रेस सचिव

कांग्रेस सचिव शहजाद पूनावाला का यह बयान उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनाव में पार्टी के शर्मनाक प्रदर्शन पर आया. उन्होंने कहा, ‘चुनावों से पता चलता है कि अब लोग वंशवाद के साथ नहीं आना चाहते.’ शहजाद पूनावाला ने आगे कहा कि वंशवाद को सिद्धांत के तौर पर स्वीकार न करने वाले दल बाकी दलों से अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. उनका यह भी कहना था कि कांग्रेस में योग्यता को पारिवारिक रिश्तों और चापलूसों जैसा महत्व नहीं मिलता है. कांग्रेस सचिव के मुताबिक अगर कांग्रेस परिवारवाद की राजनीति छोड़ दे तो उसे 30 फीसदी ज्यादा सीटें मिल सकती हैं. शहजाद पूनावाला ने गुरुवार को पार्टी अध्यक्ष चुनाव में ‘धांधली’ का आरोप लगाया था.

‘अमित शाह खुद को हिंदू कहते हैं, लेकिन वे जैन हैं.’

— राज बब्बर, कांग्रेस नेता

कांग्रेस नेता राज बब्बर का यह बयान पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के धर्म पर भाजपा द्वारा उठाए गए सवालों के जवाब में आया. यह विवाद राहुल गांधी के सोमनाथ मंदिर जाने पर गैर-हिंदू दर्शनार्थियों के रजिस्टर में उनका नाम लिखे जाने के बाद आया था. इस पर राज बब्बर ने आगे कहा, ‘राहुल गांधी के परिवार में लंबे समय से शिव की पूजा हो रही है. खुद इंदिरा गांधी रुद्राक्ष की माला पहनती थीं.’ गुरुवार को राहुल गांधी ने भी कहा था कि उनका परिवार शिव भक्त है, लेकिन वे इसे राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल नहीं करना चाहते, क्योंकि धर्म एक निजी मामला है.


‘भविष्य में चीनी नौसैनिक जहाजों का पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट पर आना चिंता की बात होगी.’

— सुनील लांबा, भारतीय नौसेना के प्रमुख

नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने यह बात हिंद महासागर में चीन की नौसैनिक गतिविधियों की चर्चा करते हुए कही. उन्होंने कहा कि चीन की नौसेना 2008 से साल में दो बार अपने आठ जहाजों की हिंद महासागर में तैनात कर रही है. एडमिरल सुनील लांबा ने आगे कहा, ‘इस साल अगस्त में स्थिति थोड़ी अलग हो गई थी, जब हिंद महासागर में चीन के नौसैनिक जहाजों की संख्या 14 पहुंच गई थी.’ उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय नौसेना हिंद महासागर में चीनी पनडुब्बियों की आवाजाही पर निगाह बनाए हुए हैं. नौसेना प्रमुख ने इन खबरों को बेबुनियाद बताया कि भारत ने अमेरिकी अधिकारियों को रूस से लीज पर ली गई पनडुब्बी की जांच करने की इजाजत दी थी.


‘जीएसटी ने व्यापारियों के लिए व्यवसाय को आसान बनाया है.’

— अरुण जेटली, केंद्रीय वित्त मंत्री

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली का यह बयान वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) से व्यापारियों को फायदा होने का दावा करते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘सभी व्यापारियों के लिए बाजार का दायरा बढ़ा है, अब पूरा देश उनके लिए बाजार बन गया है.’ अरुण जेटली आगे कहा कि नोटबंदी और जीएसटी से अर्थव्यवस्था को मध्यम और लंबे समय में लाभ होगा. उन्होंने यह भी कहा कि कर की दरों की समीक्षा की जा रही है, इसलिए व्यापारियों को निरीक्षकों का अब और ज्यादा सामना नहीं करना पड़ेगा. जीएसटी लागू होने से आर्थिक विकास दर में गिरावट पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ऐसा केवल एक तिमाही में हुआ था.


‘भारत की मुस्लिम आबादी खुद को भारतीय मानती है, जिसको सहेजने-संवारने की जरूरत है.’

— बराक ओबामा, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का यह बयान भारत की मुस्लिम आबादी को अन्य देशों के मुस्लिमों से अलग बताते हुए आया. उन्होंने कहा, ‘भारतीय मुस्लिमों ने सफलता के साथ खुद को अपने देश से जोड़ा है, ऐसा अन्य देशों में हमेशा मिले, यह जरूरी नहीं है.’ बराक ओबामा ने आगे कहा कि 2015 में भारत यात्रा के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने धार्मिक सहनशीलता और आस्था के अधिकार को मजबूत किए जाने पर जोर दिया था. पाकिस्तान से आतंकवाद के विस्तार के सवाल पर पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अमेरिका को अब तक ऐसा कुछ नहीं मिला है, जिससे कहा जा सके कि पाकिस्तान को ओसामा बिन लादेन के अपने यहां छिपे होने की जानकारी थी.