पार्टी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरते ही राहुल गांधी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधे निशाने पर ले लिया है. उन्होंने गुजरात में एक चुनावी सभा के दौरान कहा, ‘मैं कांग्रेस को उनके औरंगज़ेब राज की बधाई देता हूं. लेकिन हमारे लिए लोग मायने रखते हैं. देश की 125 करोड़ जनता हमारी माइ-बाप है.’

ख़बरों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर के एक बयान को आधार बनाया. उन्होंने कहा, ‘मणिशंकर अय्यर बड़े गर्व से कहते हैं- जब शाहजहां ने जहांगीर की जगह ली तो क्या कोई चुनाव हुआ था? और जब शाहजहां की जगह पर औरंगज़ेब आया तो क्या चुनाव हुआ था? यह सभी जानते हैं कि राजाओं का ताज़ उनके बेटों के सिर पर ही रखा जाता है– तो क्या कांग्रेस मान चुकी है वह एक परिवार, एक वंश की पार्टी है? लेकिन हमें ऐसा औरंगज़ेब राज नहीं चाहिए.’ यही नहीं प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘कांग्रेस दिवालिया हो चुकी है. क्याेंकि वह एक ऐसे व्यक्ति को अपना अध्यक्ष बना रही है जो भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर बाहर है.’

ग़ौरतलब है कि राहुल ने सोमवार को पार्टी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाख़िल किया है. घोषित चुनाव प्रक्रिया के तहत 11 दिसंबर तक नामांकन वापस लिए जा सकते हैं. मतदान जरूरी हुआ तो वह 16 दिसंबर को होगा और 19 तारीख को नतीजे की घोषणा की जाएगी. लेकिन चूंकि पार्टी के किसी नेता ने राहुल के सामने अध्यक्ष पद के लिए दावेदारी पेश नहीं की है. इसलिए उनका निर्विरोध कांग्रेस अध्यक्ष चुना जाना तय है. वे अपनी मां सोनिया गांधी के हाथ से पार्टी कमान लेंगे, जो लगातार 19 साल से कांग्रेस हैं. सोनिया गांधी मार्च 1998 में कांग्रेस अध्यक्ष बनी थीं.

पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव में नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ.
पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव में नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ.