‘मोहन भागवत कौन हैं? क्या वे सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस हैं?’ 

— असदुद्दीन ओवैसी, एआईएमआईएम के अध्यक्ष और सांसद

आॅल इंडिया म​जलिसे इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी का यह बयान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत पर हमला बोलते हुए आया. असदुद्दीन ओवैसी ने पूछा है, ‘मोहन भागवत किस हैसियत से कह रहे हैं कि अयोध्या में विवादित भूमि पर मंदिर बनेगा.’ ओवैसी ने आगे कहा कि यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है इसलिए वही तय करेगा कि विवादित जमीन पर क्या बनेगा. इस बीच मंगलवार से अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में नियमित सुनवाई शुरू होने जा रही है. बुधवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस की 25वीं बरसी है.

‘कांग्रेस मान चुकी है कि वह एक परिवार की पार्टी है, लेकिन हमें ऐसा औरंगजेबी शासन नहीं चाहिए.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर के एक बयान के जवाब में कही. मोदी ने गुजरात के धर्मपुर में कहा है, ‘मैं कांग्रेस को उसके औरंगजेब राज की बधाई देता हूं. लेकिन हमारे लिए देश की 125 करोड़ जनता ही हमारी माई-बाप है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मणिशंकर अय्यर बड़े गर्व से कहते हैं - जब जहांगीर की जगह शाहजहां और उसकी जगह औरंगजेब आया तो क्या कोई चुनाव हुए थे? तो क्या कांग्रेस मान चुकी है कि वह एक परिवार की पार्टी है?’ प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी पर सीधा हमला करते हुए यह भी कहा, ‘कांग्रेस दिवालिया हो चुकी है तभी वह उसे अध्यक्ष बना रही है जो भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर चल रहा है.’


‘कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के चुनाव की तुलना मुगल काल में शासक के चुनाव से नहीं हो सकती.’

— मणिशंकर अय्यर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का यह वक्तव्य तब आया जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके पहले के बयान का ही हवाला देकर उनकी पार्टी की कार्यप्रणाली को ‘औरंगजेब राज’ बता डाला. मणिशंकर अय्यर ने इसके बाद अपने बयान और पार्टी का बचाव करते हुए कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री को याद दिलाना चाहूंगा कि मुगल काल के बजाय कांग्रेस के अध्यक्ष का चुनाव पूरी तरह लोकतांत्रिक है. यहां कोई भी राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ने को स्वतंत्र है.’ इससे पहले के बयान में मणिशंकर अय्यर ने महाराष्ट्र कांग्रेस के सचिव शहजाद पूनावाला के एक आरोप के जवाब में अध्यक्ष पद के चुनाव की तुलना मुगल काल में सत्ता के हस्तांतरण से की थी.


‘यदि पाकिस्तान ने खुद आतंकियों के ठिकाने बर्बाद न किए तो अमेरिका ऐसा करेगा’

— माइक पॉम्पियो, सीआईए के निदेशक

अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के निदेशक माइक पॉम्पियो का यह बयान ठीक उस समय आया है जब उसके रक्षा मंत्री जिम मैटिस पाकिस्तान के दौरे पर हैं. पॉम्पियो ने आगे कहा है कि रक्षा मंत्री पाकिस्तान को बताएंगे कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिका इलाके (अफगानिस्तान-पाकिस्तान) में क्या चाहता है. साथ ही उनका कहना था, ‘हम चाहते हैं कि वह अफगानिस्तान में हमारी मदद करे. नहीं तो हम वहां आतंकी ठिकाने खत्म करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं.’