जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया. ख़बरों के मुताबिक तीनों आतंकी इस साल जुलाई में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले में शामिल थे.

द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक मारे गए तीनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े थे. बताया जाता है कि मुठभेड़ स्थल से एक आतंकी भाग निकला था. लेकिन उसे भी अनंतनाग जिले के एक अस्पताल से पकड़ लिया गया हे. मुठभेड़ सोमवार को शुरू हुई थी. दोपहर के वक़्त जब सेना का दस्ता श्रीनगर की तरफ़ जा रहा था तभी जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर क़ाज़ीगुंड के पास आतंकियों ने उस पर गोलियां चलाईं और भाग निकले.

ख़बर के मुताबिक इसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पूरे इलाके को घेर लिया और हमलावर आतंकियों की तलाश शुरू कर दी. आधी रात के बाद करीब दो बजे यह तलाशी अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया. पुलिस ने मारे गए आतंकियों ने नाम यावर बसीर, अबु फुरक़ान और अबू मवीया बताए हैं. इनमें बसीर स्थानीय आतंकी था. वह कुलगाम का रहने वाला था. पुलिस के मुताबिक बाकी दोनों आतंकी पाकिस्तानी थे.

3 terrorists have been eliminated, 2 have been identified as Pakistani nationals, 1 of them was divisional commande... https://t.co/fZTeBcusjF

— ANI (@ANI) 1512451683000

बताया जाता है कि अमरनाथ यात्रियों के का़फ़िले पर हुए हमले की अगुवाई करने वाले अबू इस्माइल के मारे जाने के बाद उसके साथी अबू फ़ुरक़ान को दक्षिण कश्मीर में लश्कर की कमान सौंपी गई थी. अमरनाथ यात्रियों पर हमले में आठ यात्री मारे गए थे. करीब 19 घायल हो गए थे.