भारत और श्रीलंका के बीच दिल्ली टेस्ट के दूसरे दिन (रविवार) को वायु प्रदूषण की वजह से खेल में बाधा पड़ने की घटना अब राजनीतिक रंग लेती हुई दिख रही है. खबर के मुताबिक पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस घटना को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. मंगलवार को कोलकाता में उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान की सफलता पर सवाल उठाया. ममता बनर्जी ने आगे कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार का ‘निर्मल बांग्ला’ अभियान केंद्र के स्वच्छता अभियान से पहले शुरू किया गया था.

ममता बनर्जी ने आगे कहा, ‘अगर मेहमान टीम अंतरराष्ट्रीय मैच मास्क पहनकर खेलती हैं तो यह अच्छा नजारा नहीं है. हर दिन प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा है. यह देश की प्रतिष्ठा के लिए भी अच्छा नहीं है.’ उन्होंने तंज कसते हुए यह भी कहा कि दिल्ली में खाने से लेकर खेलने तक मास्क कई गतिविधियों के लिए जरूरी हो गया है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने साफ किया कि यह मुद्दा राजनीतिक नहीं बल्कि, वास्तविक है और इसके समाधान के लिए दिल्ली (केंद्र और राज्य सरकार) को एक साथ बैठना होगा. हालांकि, वे इसके बहाने देश के राजनीतिक हालात पर भी टिप्पणी करने से नहीं चूकीं. उन्होंने आगे कहा, ‘राजनीतिक प्रदूषण से लेकर मौसम संबंधी प्रदूषण तक सबका प्रतिनिधित्व दिल्ली करती है. शायद राजनीतिक प्रदूषण की वजह से ही वायु प्रदूषण हो रहा है.’

बीते रविवार को दिल्ली टेस्ट में भारतीय पारी के दौरान श्रीलंकाई क्रिकेटरों ने मैदान में वायु प्रदूषण की वजह से परेशानी होने की शिकायत की थी. इसके बाद तीन बार खेल को रोका गया. इसके अलावा मेहमान टीम को मास्क के साथ मैदान पर उतरना पड़ा था. बताया जाता है कि 140 साल के टेस्ट में इस तरह की यह पहली घटना थी. इसके बाद सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कहा है कि आने वाले दिनों में दिल्ली में मैचों के आयोजन पर विचार किया जाएगा.