अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने भले ही सुनवाई आठ फरवरी 2018 तक के लिए टाल दी हो, लेकिन इस मुद्दे पर हो रहा सियासी घमासान जारी है. राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए भाजपा ने उन्हें बाबर भक्त और अलाउद्दीन खिलजी का रिश्तेदार बताया है. पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने एक ट्वीट कर कहा, ‘अयोध्या में राम मंदिर का विरोध करने के लिए राहुल गांधी ने ओवैसियों और जिलानियों से हाथ मिला लिया है. राहुल गांधी निश्चित रूप से एक बाबर भक्त और खिलजी के रिश्तेदार’ हैं. बाबर ने राम मंदिर तोड़ा और खिलजी ने सोमनाथ को लूटा. नेहरू खानदान दोनों इस्लामी हमलावरों के पक्ष में खड़ा हुआ!’

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मसले की सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड के अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने मामले की सुनवाई 2019 के आम चुनाव तक टालने की मांग की थी. कपिल सिब्बल ने अदालत में कहा था कि अदालत के फैसले का देश में बड़ा असर पड़ेगा और मामले में जल्द सुनवाई की जरूरत नहीं है. जानकारों के मुताबिक नरसिम्हा राव ने कांग्रेस नेता सिब्बल की इस दलील को लेकर ही हमला बोला है.

हालांकि कांग्रेस ने कपिल सिब्बल की इस दलील से खुद को अलग कर लिया है. पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस अदालत में दी गई इस दलील से खुद को अलग करती है और केस लड़ना कपिल सिब्बल का निजी मसला है. नरसिम्हा के बयान को पार्टी ने भाजपा की बौखलाहट बताया है. रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गुजरात में हार सामने देखकर बीजेपी बौखला गई है.