गुजरात चुनाव के लिए मचे सियासी घमासान के बीच राजनीतिक संवाद का स्तर दिनों दिन गिरता जा रहा है. गुरुवार को कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री मोदी के लिए नीच आदमी शब्द का इस्तेमाल किया. उनका यह भी कहना था कि प्रधानमंत्री में कोई सभ्यता नहीं है.

इसके बाद नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा कि मणिशंकर अय्यर ने उन्हें नीच जाति का बताया है. उनका ये भी कहना था कि कांग्रेस नेता के शब्द भारत की महान परंपरा का अपमान हैं जहां ऊंच-नीच का कोई संस्कार नहीं है. राहुल गांधी ने भी अपनी पार्टी के नेता की टिप्पणी को गलत बताया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री लगातार कांग्रेस पर हमला करने के लिए गलत भाषा का इस्‍तेमाल करते हैं लेकिन कांग्रेस में अलग तरह की परंपरा और विरासत रही है. राहुल गांधी ने कहा कि वे प्रधानमंत्री मोदी को संबोधित करने के लिए मणिशंकर अय्यर द्वारा इस्‍तेमाल की गई भाषा और तरीके का समर्थन नहीं करते. उनका ये भी कहना था कि मणिशंकर अय्यर को अपने कहे के लिए माफी मांगनी चाहिए.

उधर, विवाद बढ़ता देखकर मणिशंकर अय्यर ने इस पर सफाई दी. उन्होंने कहा कि उन्हें हिंदी अच्छे से नहीं आती और नीच शब्द से उनका मतलब राजनीति के गिरे हुए स्तर से था. उन्होंने कहा कि अगर इसका मतलब कुछ और है तो वे माफी मांगते हैं.