पाकिस्तान की जेल में बंद कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव की पत्नी और मां 25 दिसंबर को उनसे मुलाकात करेंगी. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है. कुलभूषण जाधव भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी हैं, जिन्हें जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई है.

खबरों के मुताबिक क्रिसमस के दिन कुलभूषण जाधव से उनकी पत्नी और मां की मुलाकात के दौरान इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग का एक अधिकारी भी मौजूद रहेगा. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने 10 नवंबर को मानवीय आधार पर कुलभूषण जाधव से उसकी पत्नी और मां को मिलने की इजाजत देने का फैसला किया था. रिपोर्ट के मुताबिक इस मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच कई हफ्ते से बात चल रही थी.

पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव को अप्रैल में मौत की सजा सुनाई थी. हालांकि, मई में नीदरलैंड स्थित इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) ने अपने अंतरिम आदेश में उसकी मौत की सजा पर अंतिम फैसला आने तक रोक लगा दी थी. इस मामले में अब अगले साल जनवरी से सुनवाई होनी है. वहीं, आईसीजे के अंतरिम आदेश के बाद पाकिस्तान ने भी कहा था कि कुलभूषण जाधव को दया याचिका लगाने के अधिकार का इस्तेमाल कर लेने तक फांसी नहीं दी जाएगी.