प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईआरसीटीसी होटल रखरखाव आवंटन मामले में लालू यादव और उनके परिवार की तीन एकड़ जमीन को जब्त करने का आदेश दिया है. इस मामले में एक हफ्ते पहले ईडी ने लालू याद की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से पूछताछ की थी. बताया जा रहा है कि पटना स्थित इस संपत्ति की कीमत करीब 45 करोड़ रुपये है. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक 2005 में यह जमीन डिलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड के नाम थी. पिछले साल इस फर्म का नाम बदलकर लारा प्रोजेक्ट एलएलपी रख दिया गया. लालू यादव की पत्नी और बेटे तेजस्वी यादव इसके शेयरहोल्डर हैं.

फिलहाल ईडी ने जमीन को प्रिवेंशन ऑफ मनीलॉन्डरिंग एक्ट के तहत अटैच किया है. एजेंसी ने जुलाई में लालू, उनके परिवार और अन्य के खिलाफ इस कानून के तहत मामला दर्ज किया था. ईडी द्वारा दायर की गई एफआईआर के मुताबिक 2005 में रेल मंत्री रहते हुए लालू यादव ने रांची और पुरी स्थित आईआरसीटीसी के होटलों के रखरखाव के लिए सुजाता होटल्स को कॉन्ट्रैक्ट दिलाने में मदद की थी. इसके बदले उन्हें पटना में यह जमीन दी गई थी. इससे पहले सीबीआई ने भी इसी मामले में एफआईआर दर्ज कर लालू और परिवार के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी.