Play

14 साल पहले आज के दिन ही भारतीय क्रिकेट टीम ने एक असंभव सी जीत दर्ज की थी. किसी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया पर उसे यह जीत 22 साल बाद मिली थी. इसके नायक थे द वाल यानी दीवार कहे जाने वाले राहुल द्रविड़. द्रविड़ ने इस मैच में जो पारी खेली थी उसे विदेशी धरती पर किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारियों में गिना जाता है.

एडीलेड में हुए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 556 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था. जवाब में भारतीय टीम 85 रन पर चार विकेट खोकर लड़खड़ाने लगी थी. इसके बाद वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ ने पारी को संभाला. दोनों दिग्गजों ने 303 रन की साझीदारी की और स्कोर को 388 तक ले गए. यहां लक्ष्मण 148 रन बनाकर आउट हो गए. द्रविड़ ने पारी जारी रखी और 446 गेंदों में 233 रन बनाए. भारत 523 के आंकड़े तक पहुंच गया यानी ऑस्ट्रेलिया से महज 33 रन पीछे.

जानकारों के मुताबिक द्रविड़ की इस शानदार बैटिंग का ही असर था कि दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम सिर्फ 196 रन ही बना सकी. अजित अगरकर ने 41 रन देकर छह विकेट लिए. इसके बाद 233 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए एक बार फिर राहुल द्रविड़ ने नाबाद 72 रन बनाए और भारत को जीत की देहरी तक ले गए.