अमेरिका में एच-1बी वीजा धारकों के जीवनसाथी को काम करने की अपने आप मंजूरी मिलने की व्यवस्था बहुत जल्द खत्म हो सकती है. सीएनएन के अनुसार गुरुवार को होमलैंड सिक्योरिटी डिपार्टमेंट ने 2015 के उस नियम को खत्म करने का प्रस्ताव रखा है, जिससे एच-1बी वीजाधारकों के जीवनसाथी को अमेरिका में काम करने की अनुमति अपने आप मिल जाती है. विभाग के अनुसार यह बदलाव रोजगार में अमेरिकियों को प्राथमिकता देने की राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीति के अनुरूप है.

अमेरिका उच्च कौशल वाले पेशेवरों को एच-1बी वीजा जारी करता है. अमेरिका में एच-1बी वीजा पाने वालों में 70 फीसदी भारतीय पेशेवर हैं और ज्यादातर सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में काम करते हैं. ऐसे में जीवनसाथी को काम करने की छूट खत्म होने से हजारों भारतीयों पर असर पड़ने की आशंका है. माना जा रहा है कि अगर जीवनसाथी के लिए रोजगार का अवसर नहीं होगा तो एच-1बी वीजाधारकों के लिए अमेरिका में काम करना मुश्किल हो जाएगा.

अमेरिका काम करने के लिए ग्रीन कार्ड का इंतजार कर रहे एच-1बी वीजा धारकों के जीवनसाथियों के लिए यह नियम बराक ओबामा प्रशासन के समय में लाया गया था. इसके तहत 2016 में 41 हजार पेशेवरों को वहां काम करने की इजाजत मिली थी.