बिहार में मुंगेर के मसूदन रेलवे स्टेशन पर मंगलवार रात नक्सलियाें ने हमला कर दिया. इस दौरान उन्होंने सिग्नलिंग पैनल में आग लगा दी. साथ ही दो रेलकर्मियों को बंधक भी बना लिया. द इंडियन एक्सप्रेस ने समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से बताया है कि बंधक बनाए गए रेलकर्मियों में एक मसूदन के स्टेशन मास्टर भी हैं. ख़बर के मुताबिक उन्होंने मालदा के डीआरएम (डिवीजनल रेलवे मैनेजर) को फोन पर बताया है कि नक्सलियों ने उन्हें धमकी है कि अगर मसूदन से कोई भी ट्रेन चली तो वे उन्हें जान से मार देंगे. इसके बाद सभी यात्रियों से अनुरोध किया गया है कि वे ऐहतियात के तौर पर दूसरे मार्गों से यात्रा कर लें.

इस घटना में अब तक किसी के हताहत होने की ख़बर नहीं है. रेलवे की ओर से भी घटना को लेकर कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है. अलबत्ता पूर्वी रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने यह जरूर बताया कि मालदा डिवीजन के किउल-जमालपुर-भागलपुर सेक्शन से गुजरने वाली सभी गाड़ियाें की आवाजाही फिलहाल रोक दी गई है.

वैसे यह पहला मौका नहीं है जब राज्य में ऐसी कोई वारदात हुई हो. इसी साल तीन अगस्त को 20 नक्सलियों ने लखीसराय जिले में एक ट्रेन को अगवा कर लिया था. उन्हाेंने दो रेलकर्मियों का अपहरण कर लिया था और दोनाें रेल लाइनों पर ट्रेनों की आवाजाही बाधित कर दी थी.