‘विजय माल्या दिखावे और अहंकार के शिकार हैं.’

— जीआर गोपीनाथ, एयर डेक्कन के अध्यक्ष

एयर डेक्कन के अध्यक्ष जीआर गोपीनाथ ने यह बात भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को राजनीतिक साजिश का शिकार बताने के दावों को खारिज करते हुए आया. बगैर किसी दल का नाम लिए उन्होंने कहा कि एक पार्टी की सरकार को उसे (विजय माल्या) देश से भागने देने के लिए, जबकि दूसरी पार्टी की सरकार को बैंकों का कर्ज न लौटाने पर उसके खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई न करने के लिए आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. जीआर गोपीनाथ के मुताबिक विजय माल्या ‘बैंकों का कर्ज न लौटाने वालों के लिए पोस्टर ब्वॉय’ बन गया है. इसलिए दोनों दल उससे नजदीकी को लेकर राजनीतिक तौर पर सहज हैं.

‘हम विज्ञान और तकनीक के युग में जी रहे हैं, यहां श्रद्धा के लिए स्थान है, अंधश्रद्धा के लिए नहीं.’

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह बयान नोएडा आने पर कुर्सी छिन जाने का मिथक तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को बधाई देते हुए आया. दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन के उद्घाटन के बाद उन्होंने कहा, ‘कहीं पर जाने से कुर्सी चली जाएगी, अगर इस डर से लोग जीते हैं तो ऐसे लोगों को मुख्यमंत्री नहीं बनने देना चाहिए.’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि मान्यताओं में कैद समाज प्रगति नहीं कर सकता है. उन्होंने आगे कहा कि गुजरात में मुख्यमंत्री रहते हुए वे उन सभी जगहों पर गए जहां लोग कुर्सी जाने के डर से नहीं जाते थे. नीबू-मिर्ची टांगने के टोटके का मजाक उड़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अंधश्रद्धा को मानने वाले लोग सार्वजनिक जीवन में बहुत नुकसान करते हैं.


‘किसी एक धर्म को महिमामंडित करते हुए भारत हिंदू राष्ट्र नहीं बन सकता है.’

— सिद्धारमैया, कर्नाटक के मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का यह बयान केंद्रीय मंत्री अनंतकुमार हेगड़े द्वारा धर्मनिरपेक्षता और बुद्धिजीवियों पर निशाना साधने के जवाब में आया. उन्होंने कहा, ‘संविधान में हमने कहा है कि एक धर्मनिरपेक्ष देश बनाया जाएगा. लेकिन हेगड़े इसके खिलाफ बोल रहे हैं और संविधान को बदलने की बात कर रहे हैं.’ मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आगे कहा कि देश के लोगों ने धर्मनिरपेक्ष संविधान को स्वीकार कर लिया है, जिसे किसी जातिवादी व्यक्ति की इच्छा पर बदला नहीं जा सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि भारत में सभी धर्मों के लोग भारतीय हैं. उनके मुताबिक अनंत कुमार हेगड़े को भारतीय समाज और संविधान की समझ नहीं है.


‘धोनी इस उम्र में 26 साल के खिलाड़ियों को मात दे सकते हैं.’

— रवि शास्त्री, भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच

क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का यह बयान पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को टीम में जगह देने के आलोचकों का जवाब देते हुए आया. उन्होंने कहा कि वे बेवकूफ नहीं हैं और बीते 30-40 साल से इसी खेल को देख रहे हैं. रवि शास्त्री ने आगे कहा, ‘उन्हें (आलोचकों को) आइने के सामने खड़े होकर पूछना चाहिए कि वे 36 साल की उम्र में क्या होते? क्या वे ज्यादा तेज दौड़ते?’ उन्होंने यह भी कहा कि महेंद्र सिंह धोनी के बराबर की योग्यता का खिलाड़ी मिलना मुश्किल है. रवि शास्त्री के मुताबिक महेंद्र सिंह धोनी की जगह लेने वाला खिलाड़ी सामने आने में अभी वक्त लगेगा.


‘कुलभूषण जाधव पाकिस्तान में भारतीय आतंकवाद का चेहरा है.’

— मोहम्मद फैसल, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल का यह बयान वहां कैद कुलभूषण जाधव को भारतीय राजनयिकों से मिलने देने की इजाजत से इनकार करते हुए आया. सोमवार को कुलभूषण जाधव से उनकी मां और पत्नी ने मुलाकात की. इसके बाद मोहम्मद फैसल ने कहा, ‘पाकिस्तान ने इस्लामी सिद्धांतों और शिक्षाओं के अनुरूप पूरी तरह से मानवीय आधार पर इसके लिए भारतीय अनुरोध को स्वीकार किया था.’ उन्होंने आगे कहा कि इस मुलाकात के दौरान भारतीय उपउच्चायुक्त जेपी सिंह वहां मौजूद रहे, यह मुलाकात देखी, लेकिन उन्हें कुलभूषण जाधव से मिलने की इजाजत नहीं थी. उनके मुताबिक कुलभूषण जाधव के आग्रह पर उनकी मां और पत्नी से मुलाकात का समय 10 मिनट बढ़ाया गया था.