केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने पूर्व ख़ुफ़िया अधिकारी राजिंदर खन्ना को देश का उप-सुरक्षा सलाहकार (डिप्टी एनएसए) बनाया है. उनकी नियुक्ति को मंगलवार शाम केंद्रीय मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने हरी झंडी दी है.

ख़बरों के मुताबिक़ राजिंदर खन्ना ख़ुफ़िया एजेंसी- रॉ (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) के प्रमुख रह चुके हैं. वे अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार परिषद सचिवालय (एनएससीएस) में ओएसडी (विशेष कार्य अधिकारी) के तौर पर काम कर रहे थे. पिछले साल फरवरी में उन्हें इस पद पर नियुक्ति दी गई थी. देश की बाहरी और भीतरी सुरक्षा से जुड़े मसलों को देखने के लिए एनएससीएस ही शीर्ष संस्था है. इसके सचिव राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल हैं.

जहां तक खन्ना का ताल्लुक़ है तो वे सीधे रॉ के ही कैडर से इस एजेंसी के प्रमुख बनने वाले पहले प्रमुख थे. वे 1978 में रॉ में शामिल हुए थे. जबकि दिसंबर 2014 में उन्हें दो साल के लिए इस एजेंसी का प्रमुख नियुक्त किया गया था. खन्ना को आतंकवाद के ख़िलाफ़ चलाए जाने वाले अभियानों का विशेषज्ञ माना जाता है.