दिल्ली में 31 दिसंबर को 30 करोड़ रुपये की शराब बिकी. लेकिन साल के सिर्फ आखिरी दिन ही नहीं इसके पूरे आखिरी महीने में ही शराब की बिक्री में खासी तेजी देखी गई. समाचार एजेंसी पीटीआई ने सरकारी अधिकारियों के हवाले से बताया है कि छुट्टियों और दूसरे त्योहारों पर दिल्ली के लोगों ने इस कदर जाम छलकाए कि सिर्फ दिसंबर माह में ही दिल्ली में कुल 458 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई. अगर पूरे साल की बात करें तो सरकारी आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2016-17 में प्रदेश सरकार को शराब की बिक्री से 4243 करोड़ रुपये का राजस्व मिला था. इसके इस वित्तीय वर्ष में और बढ़ने की उम्मीद है.

वैसे एक ही दिन में शराब की बिक्री और खपत बढ़ने से राजधानी में यातायात के नियमों के उल्लंघन के मामले भी बढ़े. 31 दिसंबर की देर शाम और आधी रात के बाद दिल्ली पुलिस ने कुल 16 हजार 720 चालान काटे. नई साल के मौके पर पुलिस ने 1752 ऐसे ड्राइवरों के खिलाफ भी कार्रवाई की जो शराब पीकर गाड़ी चला रहे थे. इनमें ज्यादातर कम उम्र के युवा थे.