पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में अपने यहां बंद भारतीय कुलभूषण जाधव से जुड़ा एक और प्रोपेगैंडा वीडियो जारी किया है. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार इसमें उन्होंने खुद को भारतीय नौसेना का मौजूदा अधिकारी बताने के अलावा भारतीय राजनयिकों पर कई आरोप भी लगाए हैं. इस वीडियो में कुलभूषण जाधव ने कहा है कि उसने भारतीय राजनयिक को अपनी मां और पत्नी पर चीखते हुए सुना था और मुलाकात के दौरान उनकी मां की आंखों में ‘डर’ झलक रहा था. वीडियो में उसने आगे कहा, ‘मैंने मां से कहा कि डरो मत. मेरी अच्छी देखभाल हो रही है. उन्होंने (पाकिस्तान ने) मुझे कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है...छुआ तक नहीं है.’

कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए उनकी मां और पत्नी 25 दिसंबर को इस्लामाबाद गई थीं. यहां पाकिस्तानी अधिकारियों ने खुली मुलाकात की जगह शीशे की दीवार के आर-पार बैठाकर इंटरकॉम के जरिए इनकी बातचीत कराई थी. इसके अलावा सुरक्षा के नाम पर कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी की चूंडियां, कंगन और बिंदी तक उतरवा लिए गए थे. भारत ने इसे बदसलूकी करार देते हुए इसके लिए पाकिस्तान की कड़ी आलोचना की थी. इस मुलाकात के बाद भी पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव का एक वीडियो जारी किया था. इसमें कुलभूषण जाधव ने अपनी मां और पत्नी से मिलने की इजाजत देने के लिए पाकिस्तान को धन्यवाद कहा था. इसके अलावा पाकिस्तान के आरोपों को दोहराते हुए कुलभूषण जाधव ने खुद को भारत का जासूस और बलूचिस्तान में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में लिप्त बताया था.

लेकिन भारत इन तमाम दावों को लगातार खारिज कर रहा है. भारत का कहना है कि कुलभूषण जाधव भारतीय नौसेना का एक पूर्व अधिकारी है, जिसका 2016 में ईरान से अपहरण किया गया था. पिछले साल पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत जासूसी के आरोप में कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुना दी थी. हालांकि, भारत की अपील पर नीदरलैंड स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने अंतिम फैसला आने तक इस पर रोक लगा दी थी.