आम आदमी पार्टी (आप) के नेता गोपाल राय ने पार्टी के सह-संस्थापक कुमार विश्वास पर गंभीर आरोप लगाए हैं. गोपाल राय ने दावा किया है कि कुमार विश्वास पार्टी को तोड़ने और अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार को गिराने की कोशिश में मुख्य भूमिका निभा रहे थे. एनडीटीवी के मुताबिक गोपाल राय ने कुमार विश्वास पर आरोप लगाया कि वे राज्यसभा सीट के जरिए पार्टी को खत्म करने का काम करते. उन्होंने कहा, ‘क्या ऐसे आदमी को राज्यसभा भेजा जा सकता है? क्या वे राज्यसभा में पार्टी की आवाज होंगे?’

गोपाल राय ने फेसबुक लाइव के जरिए ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि यह पहली बार नहीं था जब कुमार विश्वास पर पार्टी के नेतृत्व को धोखा देने का आरोप लगा हो. गोपाल राय ने बताया कि पहले भी आप नेताओं ने कुमार विश्वास पर आरोप लगाए हैं कि वे भाजपा के इशारे पर अलग-अलग मौकों पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ दिखाई दिए. गोपाल राय का कहना है कि कुमार विश्वास खास तरीके से लगातार सार्वजनिक बयान देते थे. उन्होंने कहा कि जब भाजपा ने उनके विधायकों को तोड़ने का प्रयास किया तो इसकी शुरुआत उसने कुमार विश्वास के घर से की.

उधर, कुमार विश्वास की तरफ से गोपाल राय के आरोपों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. दूसरी तरफ, राज्यसभा के तीनों उम्मीदवारों के नामों की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कोई बयान नहीं दिया है और न ही कोई ट्वीट किया है. गोपाल राय से पहले ओखला से आप विधायक अमानतुल्लाह खान भी कुमार विश्वास पर आरोप लगा चुके हैं. बाद में अमानतुल्लाह को निलंबित होना पड़ा था. उन पर कुमार विश्वास और अरविंद केजरीवाल के बीच अदावत पैदा करने के आरोप लगे थे. हालांकि निलंबन के कुछ ही समय बाद उन्हें वापस दिल्ली विधानसभा के पैनल में शामिल कर लिया गया.