अमेरिका के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार और लेखक माइकल वोल्फ की एक क़िताब आई है. इसमें उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बारे में कई दिलचस्प बातें लिखी हैं. मसलन- ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं बनना चाहते थे. और न ही वे चुनाव जीतने की इच्छा रखते थे. यही नहीं जब वे राष्ट्रपति का चुनाव जीत गए तो उनकी पत्नी मेलानिया रो पड़ी थीं. क्योंकि वे ट्रंप के जीतने से बहुत दुखी हो गई थीं.

द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक़ वोल्फ की नई क़िताब का नाम है- ‘फ़ायर एंड फ़्यूरी : इनसाइड द ट्रंप व्हाइट हाउस’. इस क़िताब के कुछ संपादित अंश न्यू यॉर्क मैगज़ीन में प्रकाशित हुए हैं. पत्रिका ने इन अंशों को प्रकाशित करते हुए यही शीर्षक दिया है कि ‘डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति नहीं बनना चाहते थे.’ हालांकि व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सराह सैंडर्स ने क़िताब में किए गए दावों और उनके हवाले से छपी ख़बरों को ख़ारिज़ कर दिया है.

सैंडर्स ने कहा, ‘क़िताब के लेखक से राष्ट्रपति ट्रंप की सिर्फ़ एक बार बात हुई है. वह भी बहुत संक्षेप में. मुझे लगता है शायद पांच-सात मिनट से ज़्यादा नहीं हुई होगी. यह मुलाक़ात उस समय हुई थी जब ट्रंप को राष्ट्रपति पद संभाले हुए ज़्यादा वक़्त नहीं हुआ था.’ हालांकि लेखक ने क़िताब में राष्ट्रपति ट्रंप के अलावा उनके बेटे सहित उनसे जुड़े अन्य लोगों से हुई बातचीत का भी ज़िक्र किया है. और अपनी क़िताब को इन्हीं सब का निचोड़ बताया है.