गणतंत्र दिवस की तैयारियों के चलते दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा 18 जनवरी से 26 जनवरी के बीच हर दिन एक घंटा 45 मिनट तक बंद रहेगा. बताया जा रहा है कि इसके चलते हर दिन 100 से भी ज्यादा उड़ानों को रद्द करना पड़ सकता है. दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड (डीआईएएल) से कहा गया है कि वह 18 से 26 जनवरी के दौरान सुबह 10.30 बजे से दोपहर 12.15 बजे तक की सभी घरेलू उड़ानों को रद्द कर दे. ऐसी स्थिति में अधिकतर उड़ानों का समय बदल दिया जाता है. लेकिन इस बार इन नौ दिनों के दौरान दिल्ली एयरपोर्ट पर कोई भी स्लॉट उपलब्ध नहीं रहेगा. इसी वजह से डीआईएएल से सभी उड़ानों को रद्द करने को कहा गया है.

इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक यह पहली बार है जब दिल्ली एयरपोर्ट ने घरेलू एयरलाइनों को गणतंत्र दिवस की तैयारी वाले दिनों के दौरान उड़ानें रद्द करने को कहा है. पिछले साल तक उन्हें उड़ानों का समय बदलने की अनुमति थी, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा. हालांकि अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर यह आदेश अभी लागू नहीं होगा. उनका समय बदला जा सकता है.

जाहिर ही बात है, एयरलाइंस इस फैसले से खुश नहीं हैं. उनके मुताबिक इस आदेश की वजह से उन्हें यात्रियों का गुस्सा झेलना पड़ेगा. एयर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘हम इस मामले को डीआईएएल के सामने उठाएंगे. अचानक इस तरह अचानक उड़ानें रद्द नहीं की जा सकतीं.’ वहीं, अन्य एयरलाइनों ने इस मुद्दे पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.