चीन अरुणाचल प्रदेश में भारतीय सीमा के पास सड़क निर्माण का काम रोकने पर राजी हो गया है. सोमवार को सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि दोनों पक्षों के अधिकारियों के बीच बातचीत के बाद इस पर सहमति बन गई. इसके बाद भारत ने जब्त किए गए सड़क निर्माण उपकरण चीनी सेना को लौटा दिए हैं.

बीते दिनों खबर आई थी कि दिसंबर के आखिरी हफ्ते में चीनी सेना ने अरुणाचल प्रदेश में भारतीय सीमा में करीब एक किलोमीटर भीतर तक घुसपैठ की है. यह घटना ऊपरी सियांग जिले में पड़ने वाले बिशिंग नाम के गांव के पास हुई थी. चीनी सैनिक यहां सड़क बनाने की कोशिश कर रहे थे. इसके बाद भारतीय सैनिकों ने उन्हें रोकते हुए उनके उपकरण जब्त कर लिए थे. इनमें दो एक्सकेवेटर (खोदने वाली मशीनें) भी शामिल थे.

इससे पहले सिक्किम सीमा के पास डोकलाम में भी भारत और चीन की सेनाएं दो महीने तक आमने-सामने रही थीं. काफी मशक्कत के बाद बीते अगस्त में यह विवाद सुलझा था. जनरल रावत ने यह भी बताया कि डोकलाम में भी अब चीन ने सैनिकों की संख्या में काफी कटौती कर दी है.