केपटाउन टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारतीय टीम को 72 रनों से मात दे दी है. मैच के चौथे दिन दूसरी पारी में अफ्रीका द्वारा दिए गए 208 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए पूरी टीम महज 135 रन पर आउट हो गई. अफ्रीका की इस जीत की वजह उसके गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन रहा है जिन्होंने भारतीय बल्लेबाजी को पूरी तरह ध्वस्त कर दिया. इस जीत के साथ ही दक्षिण अफ्रीकी टीम ने तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 1- 0 से बढ़त बना ली है.

इससे पहले मैच के चौथे दिन दूसरी पारी में अफ्रीकी टीम 65 रन पर दो विकेट से आगे खेलने उतरी. लेकिन, भारतीय तेज गेंदबाजों की घातक गेंदबाजी के सामने पूरी टीम महज 130 रनों पर सिमट गई. भारत की ओर से मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ने तीन-तीन खिलाड़ियों को आउट किया जबकि भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक पांड्या ने दो-दो विकेट झटके. पहली पारी के 77 रन की बढ़त को मिलाकर अफ्रीका ने भारतीय टीम को कुल 208 रनों का लक्ष्य दिया.

इसके बाद भारत की ओर से मुरली विजय और शिखर धवन ने पारी की शुरुआत की लेकिन दोनों ने ही 30 रन के स्कोर पर अपना विकेट गंवा दिया. इसके बाद मध्यक्रम का कोई भी बल्लेबाज दक्षिण अफ़्रीकी गेंदबाजों का सामना नहीं कर सका. एक समय 82 रन पर सात विकेट खो चुकी भारतीय टीम का 100 के पार पहुंचना भी मुश्किल लग रहा था. लेकिन, आर अश्विन और भुवनेश्वर कुमार की आठवें विकेट के लिए हुई 49 रन की साझेदारी ने टीम का स्कोर 131 रन तक पहुंचा दिया.

अश्विन के आउट होने के बाद कोई भी बल्लेबाज विकेट पर नहीं टिक सका और पूरी टीम 135 रन पर सिमट गई. दूसरी पारी में भारत की ओर से आर अश्विन ने सबसे ज्यादा 37 रन बनाए, जबकि कप्तान विराट कोहली ने 28 रनों की पारी खेली. दक्षिण अफ्रीका की ओर से वर्नोन फिलेंडर ने छह विकेट जबकि मोर्ने मॉर्केल और कागीसो रबादा ने दो-दो खिलाड़ियों को आउट किया.