अमेरिका में अगला राष्ट्रपति चुनाव 2020 में होना है. लेकिन वहां अभी से उसके लिए संभावित दावेदारों की चर्चा चल निकली है. इनमें कहा जा रहा है कि मशहूर टीवी होस्ट ओपरा विन्फ्रे डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से अगली बार मौजूदा राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को चुनौती दे सकती हैं.

सीएनएन एंटरटेनमेंट ने ओपरा के भाषण को विस्तार से जारी किया है. इसमें उन्होंने बताया कि कैसे वे बेहद साधारण पृष्ठभूमि से ताल्लुक़ रखने के बावज़ूद अपनी मेहनत और बुलंद इरादों से यहां तक पहुंची. उन्होंने समाज में महिलाओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार-भेदभाव का जिक्र किया. रंगभेद की बात की और लिंगभेद की भी. फिर अंत में कहा, ‘मैंने हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की. फिर चाहे वह टीवी के जरिए हो, फिल्मों के या समाज सेवा के जरिए. मैंने ऐसे कई लोगों का साक्षात्कार लिया जिन्हाेंने जीवन के सबसे बुरे दौर में भी खुद को कमजोर नहीं होने दिया. उन हालात से निकले और जीते. अंधेरी से अंधेरी रात में भी उन्होंने उजली सुबह की उम्मीद नहीं छोड़ी. इसीलिए आज टीवी देख रही हर लड़की से मैं कहना चाहती हूं कि अगली सुबह ज़रूर होगी. जब यह सुबह होगी तो इसमें कई तेजस्वी महिलाओं का सबसे ज़्यादा योगदान होगा. और उनमें से कुछ महिलाएं आज रात यहां बैठी भी हैं.’

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़ विन्फ्रे के इस भाषण पर मिश्रित प्रतिक्रियाएं सामने आई हैं. उनके भाषण के बाद से तमाम टीवी कार्यक्रमों सहित सोशल मीडिया पर भी ‘विन्फ्रे फॉर प्रेसिडेंट’ नामक टॉपिक चर्चा का विषय बना हुआ है. इसके साथ ही एसोसिएटेड प्रेस की ओर से कराए गए एक ओपिनियन पोल के नतीज़ों की भी चर्चा है. इसमें बताया गया है बीते दिसंबर में ट्रंप के काम की तारीफ़ करने वाले सिर्फ़ 32 फ़ीसदी ही रह गए हैं. हालांकि ट्रंप इस सबसे ज़्यादा विचलित नजर नहीं आते. उन्होंने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में दावा कि वे राष्ट्रपति चुनाव में विन्फ्रे को आसानी से हरा देंगे. साथ में उन्होंने यह भी भरोसा जताया कि विन्फ्रे चुनाव में उन्हें चुनौती नहीं देंगी.