छत्तीसगढ़ में माओवादियों के साथ मुठभेड़ में चार पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, जबकि सात घायल हो गए. हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक यह मुठभेड़ बुधवार सुबह नारायणपुर जिले के अबूझमाड़ इलाके में हुई. इसमें जिला रिजर्व गार्ड के दो उपनिरीक्षकों और दो सिपाहियों की मौत हो गई. जिला रिजर्व गार्ड को खास तौर पर माओवादियों से लड़ने के लिए गठित किया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक विशेष पुलिस महानिदेशक (नक्सलरोधी अभियान) डीएम अवस्थी ने बताया कि यह मुठभेड़ नक्सलरोधी अभियान पर निकली पुलिस टीम के साथ हुई, जिसमें स्पेशल टास्क फोर्स के जवान भी शामिल थे. उन्होंने बताया कि मुठभेड़ की सूचना मिलते ही मौके पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को भेजा गया है. इसके अलावा सभी घायल पुलिसकर्मियों को हेलिकॉप्टर के जरिए इलाज के लिए रायपुर लाया गया है.

बस्तर के पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि यह मुठभेड़ सुबह 11 बजे शुरू हुई और लगभग दो घंटे तक चली. अधिकरियों के मुतबिक इस मुठभेड़ में माओवादियों को भी काफी नुकसान हुआ है. इस बीच माओवादियों ने बीजापुर जिले में भी एक आईईडी धमाका किया, जिसमें दो जवान घायल हो गए.