भाजपानीत मोदी सरकार भले ही ‘सबका साथ-सबका विकास’ का दावा कर रही हो, लेकिन भाजपा सांसद विनय कटियार मुसलमानों को देश छोड़ने की सलाह दे रहे हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार बुधवार को उन्होंने कहा, ‘मुसलमान को इस देश में रहना ही नहीं चाहिए. उन्होंने जनसंख्या के आधार पर देश का बंटवारा कर दिया तो उन्हें देश में रहने की क्या आवश्यकता थी?’ विनय कटियार ने आगे कहा, ‘उनको (मुसलमानों को) अलग भू-भाग दे दिया गया तो (वे) बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं, यहां क्या काम है उनका?’

भाजपा सांसद विनय कटियार ने मुसलमानों पर धर्म के आधार पर देश का बंटवारा करने का भी आरोप लगाया. उनका यह भी कहना था कि देश में वंदे मातरम का सम्मान न करने वालों और तिरंगे का अपमान करने वालों को सजा देने के लिए कानून बनाया जाना चाहिए.

भाजपा सांसद विनय कटियार का यह बयान एआईएमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी के बयान के जवाब में आया. लोकसभा में मंगलवार को असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि कानून बनाकर मुसलमानों को ‘पाकिस्तानी’ कहने को अपराध घोषित कर देना चाहिए. उन्होंने इस अपराध के लिए कानून में कम से कम तीन साल की सजा का प्रावधान करने की मांग भी की थी.