फ्रेंच वायुसेना के प्रमुख जनरल आंद्रे लनाटा ने बुधवार को भारत के स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान तेजस में उड़ान भरी. सेना के प्रवक्ता ने बताया, ‘जिस विमान में उन्होंने उड़ान भरी वह दो सीटों वाला प्रशिक्षण के लिए इस्तेमाल में लाया जाने वाला विमान है. इस उड़ान के दौरान आंद्रे लनाटा तेजस की पिछली सीट पर सवार थे.’

अभी बीते हफ्ते शनिवार को अमेरिकी वायुसेना के प्रमुख जनरल डेविड एल गोल्डफिन ने भी जोधपुर एयरफोर्स स्टेशन से ही तेजस में उड़ान भरी थी. दो देशों के वायुसेना प्रमुखों की उड़ान में बस इतना फर्क रहा कि जहां आंद्रे लनाटा इस विमान की पिछली सीट पर सवार हुए तो वहीं गोल्डफिन ने तेजस को खुद ही उड़ाया था. उस उड़ान के दौरान उनके साथ एयर वाइस मार्शल एपी सिंह सह-पायलट की भूमिका में थे.

तेजस का विकास और निर्माण हिंदुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड ने किया है. भारतीय वायुसेना में तेजस का पहला बेड़ा जुलाई 2016 में शामिल किया गया था. पिछले साल दिसंबर में भारतीय वायुसेना ने हिंदुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड के साथ 83 तेजस विमानों का सौदा भी किया है.