बीते साल दिसंबर में राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद आज पहली बार सोनिया गांधी ने कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को संबोधित किया है. संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की अध्यक्ष इस दौरान केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर बरसीं. उन्होंने सत्तारूढ़ एनडीए सरकार के बारे में कहा कि यह ‘अधिकतम प्रचार और न्यूनतम सरकार’ (मैक्सिमम पब्लिसिटी, मिनिमम गवर्नमेंट) के खेल पर चल रही है. सोशल मीडिया पर उनके इस बयान को कई लोगों ने शेयर किया है. हालांकि यहां सोनिया गांधी के उस बयान की सबसे ज्यादा चर्चा है जिसमें उन्होंने कहा है कि अब राहुल गांधी उनके भी ‘बॉस’ हैं और इसमें किसी को कोई संदेह नहीं होना चाहिए. इस बयान के मायने निकालते हुए यहां ज्यादातर लोगों का कहना है कि इससे पार्टी की पूर्व अध्यक्ष ने बाकी नेताओं को संदेश दे दिया है कि उन्हें अब राहुल गांधी की बात ही माननी होगी. ऐसी ही एक फेसबुक पोस्ट है, ‘... सोनिया गांधी ने शरद पवार, शरद यादव और ममता बनर्जी को भी साफ जता दिया है कि अगर गठबंधन में आना है तो बेटे को बॉस मानना पड़ेगा.’

सोनिया गांधी के इस बयान पर उनकी और कांग्रेस की आलोचना करते हुए भी यहां खूब प्रतिक्रियाएं आई हैं. ट्विटर हैंडल @Ravirgurjar1 पर टिप्पणी है, ‘भाजपा में अक्सर अटल जी, आडवाणी जी या मोदी जी के लिए सुना गया है कि ये हमारे नेता हैं... जबकि कांग्रेस ने साबित कर दिया है कि वहां नेतागिरी नहीं, बॉसगिरी चलती है.’ एक अन्य ट्विटर यूजर की चुटकी है, ‘... क्या अब (सोनिया गांधी के बयान के बाद) हमें यह मान लेना चाहिए कि सभी कांग्रेसी पप्पू हैं?’

सोनिया गांधी के इस बयान पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

शकुनि मामा | @ShakuniUncle

सोनिया जी ने राहुल गांधी को अपना बॉस बताया और राहुल सहित सब कांग्रेसी समझ गए कि बॉस कौन है.

धर्मेंद्र ठाकुर लाला | facebook/dharmendra.lala

सोनिया गांधी का पार्टी नेताओं को संदेश है – राहुल मेरे भी बॉस हैं. इसके बाद राहुल गांधी का संदेश आने वाला है – प्रियंका (गांधी) के बच्चे मेरे बॉस हैं!

इंडियन हिस्टरी पिक्स |‏ @IndiaHistorypic

1970 का दशक : प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी अपनी पोती प्रियंका के साथ :

मनीष के त्यागी | @KnottyCommander

सोनिया गांधी कांग्रेस नेताओं से कहा है कि अब राहुल मेरे भी बॉस हैं. यह ठीक वैसा ही है जैसे एक मां अपने रिश्तेदारों से कहती है कि अब इस घर में मेरी नहीं, बेटे और बहू की चलेगी.

सुजाता आनंदन |‏ @sujataanandan

सोनिया गांधी का कहना है कि राहुल अब मेरे भी बॉस हैं. जो वरिष्ठ नेता मां-बेटे को एक दूसरे के खिलाफ खड़ा करके पार्टी को नुकसान पहुंचाने की कोशिश