भारत सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित दो संग्रहालय बनाने का फैसला किया है. इनमें से एक नई दिल्ली जबकि दूसरा कोलकाता में बनेगा. केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन मंत्री महेश शर्मा ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा है, ‘दिल्ली में ऐसा कुछ खास नहीं है जो नेताजी सुभाष चंद्र बोस की उपलब्धियों और योगदान से लोगों को परिचित कराता हो. इसलिए हमने यहां संग्रहालय निर्माण का फैसला किया है. इसके लिए दिल्ली विकास प्राधिकरण से जमीन की मांग की जा चुकी है.’

पीटीआई के मुताबिक कोलकाता में नेताजी का संग्रहालय पुरानी नेशनल लाइब्रेरी बिल्डिंग में बनेगा. इस संग्रहालय में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अलावा में पश्चिम बंगाल की तीन अन्य हस्तियों से जुड़े दस्तावेजों और अन्य संबंधित चीजों का प्रदर्शन किया जाएगा. इन हस्तियों में रवींद्रनाथ टैगोर, बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय के अलावा भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी भी शामिल हैं.