लगातार हो रहे आतंकी हमलों के बीच मोदी सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. उसने करीब 16 हजार करोड़ रुपये के रक्षा सौदों को मंजूरी दे दी है. यह फैसला मंगलवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में हुई रक्षा खरीद परिषद की बैठक में हुआ.

सरकार का कहना है कि इसके तहत सीमावर्ती क्षेत्रों में तैनात सैनिकों के लिए बेहतर हथियार मुहैया कराने पर खासा ध्यान दिया गया है. उसके मुताबिक इन सौदों के जरिये लाइट मशीनगन, असॉल्ट राइफल्स और स्नाइपर राइफल्स जैसे हथियार खरीदे जाएंगे. उसने यह भी कहा कि इन हथियारों की खरीद फास्ट ट्रैक प्रोसेस के जरिये होगी.

सशस्त्र बलों ने 11 साल पहले नई बंदूकों की जरूरत को लेकर अपनी मांग रखी थी. लेकिन यह मामला लगातार लटकता आ रहा था. जम्मू-कश्मीर में हाल के दिनों में एक के एक बाद एक आतंकी हमलों में सुरक्षा बलों को जान-मान का काफी नुकसान उठाना पड़ा है. माना जा रहा है कि इसके बाद बने दबाव के चलते ही सरकार ने यह फैसला लिया है.